संवाद सूत्र, श्री मुक्तसर साहिब

सिवल सर्जन डा. रंजू सिगला के अनुसार व सीएचसी चक्क शेरेवाला के सीनियर मेडिकल अधिकारी डा. सुनील कुमार बांसल की अगुआई में चल रही वैक्सीनेशन मुहिम के अंतर्गत ब्लाक चक्क शेरेवाला के 15 गांवों में कोविड महामारी से बचने के लिए पहला टीका लगाया जा चुका है। ब्लाक के गांव तख्त मलाना, लक्खेवाली मंडी, जंडोके, बरकंदी, नंदगढ़, झबेलवाली, चड़ेवान, चक्क बाजा मराड़, करीमपुरा बस्ती और चक्क मोतलेवाला, करीमपुरा बस्ती, सराऐनागा, उदेकरन, गंधड़ और चक्क शेरेवाला गांव में शत प्रतिशत वेक्सीनेटेड हो चुकी हैं।

मास मीडिया अधिकारी मनबीर सिंह ने बताया कि फील्ड स्टाफ में मल्टीपर्पज हेल्थ सुपरवाइजर, आशा वर्करों की मेहनत से हम अपने लक्ष्य को हासिल करने की तरफ बढ़ रहे हैं। वैक्सीनेशन साथ साथ सैंपलिग का काम भी चल रहा है जिससे बिना लक्षण वाले पाजिटिव मामलों की पहचान की जा सके। मास मीडिया व फील्ड स्टाफ की तरफ से लोगों को वैक्सीनेशन करवाने के लिए जागरूक करने के लिए गांव स्तर पर बैठकों और घर-घर जा कर भी प्रेरित किया जा रहा है जिससे कोई भी व्यक्ति वैक्सीनेशन से वंचित न रह जाए। एसएमओ डा. सुनील बांसल ने मास मीडिया व फील्ड स्टाफ की तारीफ करते कहा कि जिन गांवों में शत प्रतिशत वैक्सीनेशन हो चुका है वहीं स्टाफ को सिवल सर्जन की तरफ से सम्मानित किया जाता है।

इस मौके पर डा. वरुण वर्मा, डा.जतिदरपाल सिंह, डा. अलीशा व परमजीत सिंह आदि मौजूद थे। ------------------ डेंगू के खिलाफ लोगों को किया जागरूक

संवाद सूत्र, मलोट (श्री मुक्तसर साहिब)

सीनियर मेडिकल अधिकारी सीएचसी आलमवाला डा. जगदीप चावला के नेतृत्व में ब्लाक आलमवाला के फील्ड स्टाफ की तरफ से लोगों को डेंगू से बचाव संबंधी जागरूक किया जा रहा है। इस लड़ी के अंतर्गत हेल्थ वेलनेस सेंटर बधाई वाला में लोगों को डेंगू के लक्षण, इलाज और इसके बचाव की जानकारी दी गी।

गुरविदर सिंह बराड़ और सुखजीत सिंह आलमवाला ने बताया कि डेंगू एक खास किस्म के मच्छर के काटने से होता है जिसको एडीज ऐजीपिटी कहा जाता है। बहुत तेज बुखार, सिर दर्द, मन कच्चा होना, उलटी आना, दर्द होना डेंगू होने की निशानियां हैं। डेंगू से बचाव के लिए हमें इस मच्छर को पैदा होने से रोकना चाहिए। यह मच्छर साफ पानी में पैदा होता है। इस लिए हमें वह सभी स्त्रोतों को जिसमें पानी लगातार जमा रहता को हफ्ते में एक बार साफ करना चाहिए। फ्रिज की ट्रे, छत पर रखा पानी वाले वर्तन, कूलर, गमले, टायर जा घर में ऐसा सामान जिस में पानी इकट्ठा हो सकता हो को हफ्ते में एक बार जरूर सुखा कि धूप लगवानी चाहिए।

इस मौके पर सुमनदीप कौर, कुलवंत कौर, करमजीत कौर, वीरपाल कौर, करमजीत कौर व गांव के व्यक्ति मौजूद थे।

Edited By: Jagran