जागरण संवाददाता, श्री मुक्तसर साहिब : सुबह चार बजे अपने गांव से चक गांधा सिंह वाला के गुरुद्वारा साहिब में ड्यूटी पर जा रहे पूर्व महिला सरपंच के पति व ग्रंथी को दो बाइक सवार अज्ञात युवकों ने गोली मार दी। घायल को उसके बेटों ने मुक्तसर के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। चिकित्सकों के मुताबिक हालत खतरे से बाहर है। उधर थाना बरीवाला पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। गांव चक गांधा सिंह निवासी हरमीत सिंह (50) पुत्र अमर सिंह गांव तख्त मलाना के गुरुद्वारा साहिब में ग्रंथी के तौर पर सेवा निभाता था। रोज की तरह वह शनिवार की सुबह सवा चार बजे घर से अपने मोटरसाइकिल पर गुरुद्वारा साहिब जा रहा था, जब वह गांव तख्तमलाना व बाहमणवाला के पुल नजदीक पहुंचा तो उसके पास से एक बाइक पर दो युवक गुजरे। बाइक की लाइट भी बंद थी, कुछ समय के बाद उसने देखा कि उसके पेट के बाएं तरफ खून बहने लगा। उसने मोटरसाइकिल रोककर जब देखा तो उसके गोली के छर्रे लगे थे जबकि गोली पेट के निकट से गुजर गई। उसने तुरंत ही अपने घर पर सूचना दी। सूचना पाते ही उसका बेटा गुरजीत सिंह व अछर सिंह आए जिन्होंने उसे मुक्तसर के बांसल नर्सिंग होम में भर्ती करवाया, जहां पर डाक्टर ने उसका उपचार शुरु कर दिया। डॉ. मुकेश बांसल ने बताया कि मरीज की हालत ठीक है और खतरे से बाहर है। क्योंकि गोली पेट में नहीं लगी उसके मात्र छर्रे ही लगे हैं। थाना बरीवाला पुलिस ने अस्पताल में पहुंचकर उसके बयान नोट किए। उधर डीएसपी तलविदर सिंह ने बताया कि उनकी ओर से ग्रंथी के बयानों पर अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। बता दें कि ग्रंथी की पत्नी सुखविदर कौर बीते समय में शिअद की ओर से गांव चक गांधा सिंह वाला की सरपंच रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!