संवाद सहयोगी, श्री मुक्तसर साहिब

निजीकरण के खिलाफ पंजाब विधानसभा के बजट सत्र के दौरान 23 फरवरी को पटियाला में मोर्च की जा रही रैली के संबंध में मुख्य मंत्री के नाम ज्ञापन भेजा गया। ज्ञापन को जसविदर सिंह झबेलवाली, जसवीर सिंह तखी तथा प्रगट सिंह जंबर की अगुआई में तहसीलदार जैत कुमार को सौंपा गया। 23 फरवरी को पटियाला में की जा रही रैली के बारे में डेमोक्रेटिक मुलाजिम फेडरेशन के नेता पवन कुमार ने बताया कि पंजाब सरकार की तरफ से मिड-डे मील वर्करों, आशा वर्करों, पार्ट टाइम सफाई सेवकों तथा आंगनबाड़ी वर्करों को उजरत लागू न करने, हर विभाग के कच्चे वर्करों, हर किस्म के ठेका शिक्षकों को पक्का न करने तथा रेगुलर मुलाजम के पे कमिशन, डीए तथा 118 माह के बकाए, जनवरी 2004 के बाद वाले मुलाजमों को पुरानी पेंशन लागू ना करने तथा और मुलजाम मांगों को दरकिनार करने के विरोध में की जा रही है।

इस मौके पर सरदूल सिंह, कुलविदर सिंह, पवन कुमार चौधरी, सुभाष चंद्र, चरणजीत सिंह, सुरिदर कुमार, रणजीत सिंह, मोहर सिंह खालसा, सुरजीत सिंह, गुरबंस सिंह, सतपाल सिंह, जसवंत सिंह, कर्मजीत कुमार, नरेश कुमार, रणजीत कुमार सहित कई ओर भी साथी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!