संवाद सहयोगी, मोगा : गांव चड़िक में शुक्रवार रात को एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी के सिर कस्सी की प्रहार कर हत्या कर डाली। शनिवार सुबह उसने खुद थाने में जाकर सरेंडर कर दिया। पुलिस ने इस मामले में पति सहित दो लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस हत्या में नामजद व्यक्ति को हत्यारोपित पति का दोस्त बता रही है। हत्यारोपित के छोटे भाई ने तो खुलेआम कहा है कि पुलिस जिसे उसके भाई का दोस्त बता रही है वह भाई का नहीं उसकी भाभी का दोस्त है, उसके चर्चे पूरे गांव में है। भाई उसे घर में आने से रोकता था, इसी बात को लेकर भाई व भाभी में तकरार रहती थी।

थाना चड़िक के इंचार्ज इंस्पेक्टर जयपाल सिंह ने बताया कि 39 वर्षीय ज्योति पुत्री अशोक कुमार की शादी गांव चड़िक निवासी बलवंत सिंह से हुई थी। मृतक महिला तीन बच्चों की मां थी। बलवंत सिंह अपने दोस्त के साथ अक्सर घर में ही रोजाना की तर्ज पर शुक्रवार रात को भी शराब पी रहा था। ज्योति ने पहले भी कई बार बलवंत सिंह को शराब पीने से रोका था। बलवंत सिंह रात को भी शराब पी रहा था तो ज्योति ने विरोध किया जिसके बाद बलवंत सिंह ने ज्योति के सिर पर कस्सी का प्रहार कर उसकी हत्या कर दी।

इंस्पेक्टर जयपाल सिंह ने बताया कि उन्होंने मृतक महिला के भाई धर्मेंद्र सिंह पुत्र अशोक कुमार निवासी नछत्तर सिंह टीचर कॉलोनी मोगा के बयानों के आधार पर महिला के पति पर बलबंत सिंह व जस्सा सिंह घोलियां के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे काबू कर लिया है। भाई का नहीं भाभी का दोस्त था जस्सा : चंनन सिंह

हत्यारोपित बलवंत सिंह के भाई चंनन सिंह का कहना है कि पुलिस झूठ बोल रही है। जस्सासिंह घोलियां उसके भाई का दोस्त नहीं उसकी भाभी का दोस्त है। उन दोनों के चर्चे पूरे गांव के लोगों को मालूम है। उसका भाई बलबंत सिंह जस्सासिंह के घर आने का विरोध करता था। इसी कारण घर में अक्सर कलह रहती थी। भाभी की हत्या भी जस्सासिंह ने की है। पुलिस की कहानी में पेंच

पुलिस ने दावा किया कि बलवंत सिंह अपने दोस्त जस्सासिंह के साथ शराब पी रहा था। पत्नी ने शराब पीने का विरोध किया तो बलवंत सिंह ने अपनी पत्नी ज्योति के सिर में कस्सी का प्रहार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। बाद में अस्पताल में उसकी मौत हो गई। सवाल उठता है कि अगर पुलिस की ये कहानी सही है तो जस्सासिंह को केस में नामजद क्यों किया गया? खुद मौके पर पहुंचे डीएसपी सिटी परमजीत सिंह से पूछा गया कि गांव में चर्चा तो ये है कि जस्सासिंह बलवंत सिंह का नहीं बल्कि उसकी पत्नी का दोस्त था, उसके साथ उसके अवैध संबंध बताए जा रहे हैं। इस पर डीएसपी का कहना है कि उन्हें तो कार्रवाई मृतका के भाई के बयान पर करनी थी। बाकी जांच चल रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!