राज कुमार राजू, मोगा : तीन दिनों से रुक-रुककर होने वाली बारिश के बाद रविवार को डेढ़ घंटे की तीन एमएम की बरसात ने गर्मी को भूलने के लिए मजबूर कर दिया लेकिन आफतों को न्यौता दे दिया। 40 से 32 डिग्री पर गिरे तापमान और आसमान पर छाये बादलों ने ठंडी हवाओं ने गर्मी ने निजात दिलाई, वहीं धान की फसल को मिले खूब पानी ने किसानों के चेहरों पर रौनक ला दी लेकिन शहर की सड़कों, खाली प्लाटों और शहर के नीचले स्थानों में जलभराव हो गया। सीवरेज व्यवस्था सुचारू न होने के चलते हुए जलभराव में लोगों का घरों से निकलना मुश्किलों भरा हो गया। जलभराव ने नगर निगम की व्यवस्था की पोल खोल दी। वहीं सड़कों की हालात की सुध न लेते हुए प्रशासन द्वारा सड़कों व नाले की सफाई न करवाई गई तो आने वाले दिनों में शहरवासियों को भारी परेशानी का सामना करना होगा वहीं जलभराव के कारण डेंगू पनपने का खतरा भी बन गया है। प्रशासन ने पानी में पनपने वाले डेंगू की रोकथाम के लिए पुख्ता योजना तैयार नहीं की है। सेहत विभाग भी अनदेखी कर रहा है। बीते साल शहर में डेंगू से पीड़ित लोगों का आंकड़ा 250 को पार कर गया था। शहर के इन इलाकों में भरा बारिश का पानी

अकालसर रोड

लाल सिंह रोड

टिब्बा बस्ती

पहाड़ा सिंह चौक

बहोना चौक के आसपास का क्षेत्र

गांधी रोड

जीटी रोड के किनारे

नेचर पार्क

रेलवे लाइन

सरदार नगर

कृष्णा नगर

राम गंज मंडी

न्यू टाउन मच्छरों से निजात पाने के लिए खुद प्रयास शुरू

समाज सेवी विजय कुमार ने बताया कि उनके घर के आस पास पड़े खाली प्लाटों में जल भराव से मच्छर पनपना शुरू हो चुका है। मच्छरों की बढ़ती तादात को देखते हुए उन्होंने कचरे और जल भराव वाले स्थान पर डीडीटी दवा को डालने का काम अपने स्तर पर किया है, लेकिन उससे मच्छरों पर कोई असर नहीं हुआ है। सोमवार को करवाएंगे स्प्रे : वासदेव

नगर निगम के सेनेटरी इंस्पेक्टर विकास वासदेव ने कहा कि दो तीन दिनों से हो रही बारिश से कई इलाकों में बारिश का पानी जमा हो गया है जिसमें डेंगू का मच्छर पैदा होने का भय बना हुआ है। जिसको लेकर वह सोमवार को जलभराव वाले इलाकों में स्प्रे व मच्छर मारने समेत डेंगू का लारवा पैदा ही न हो दवाई का छिड़काव करवाएंगे। फसलों के लिए टॉनिक का काम करेगी बारिश : डॉक्टर कुलदीप

खेतीबाड़ी अफसर डॉक्टर कुलदीप सिंह ने कहा कि रविवार को सुबह डेढ़ घंटे के दौरान 3 एमएम बारिश हुई है। यह बारिश फिलहाल धान की फसल, सब्जियों, हरे चारे के लिए लाभदायक सिद्ध होगी। उन्होंने बताया कि आने वाले दो तीन दिनों में मौसम ठंडा बना रहेगा।

Posted By: Jagran