संवाद सहयोगी,मोगा

कच्चे मुलाजिम पक्के करो संघर्ष कमेटी पंजाब की सब कमेटी जिला मोगा की बैठक जिलाध्यक्ष जसप्रीत सिंह गगन व अध्यक्ष सर्बजीत कौर की अध्यक्षता में सोमवार को हुई।

बैठक में सेहत विभाग के ठेके तथा आउटसोर्सिंग पर काम करती स्टाफ नर्सों, दर्जा चार मुलाजिमो, सफाई सेवक तथा विभिन्न कैटागिरी के समूह कर्मचारियों ने शमूलियत की। कच्चे मुलाजिम पक्के करो संघर्ष कमेटी पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष जसप्रीत सिंह गगन ने कहा कि पंजाब के विभिन्न जिलों से डिप्टी कमिश्नरों तथा सेहत विभाग के उच्चाधिकारियों के जरिए मुख्यमंत्री के नाम मांगपत्र सौंपकर मांग की गई है कि सेहत विभाग के सारे कच्चे मुलाजिमों को सेहत विभाग में पक्का किया जाए। उन्होंने मांग की कि छठे वेतन कमीशन अनुसार 18 हजार रुपये मासिक वेतन दिया जाए, ड्यूटी दौरान किसी कर्मचारी की मृत्यु होने पर मृतक के परिवार को नौकरी दी जाए तथा 50 लाख का मुआवजा दिया जाए, सेहत विभाग में काम करते आउटसोर्सिंग कर्मचारियों, ठेके पर काम करते हर तरह के कच्चे मुलाजिमों का सरकार द्वारा 50 लाख रुपये का बीमा किया जाए, बराबर काम बराबर वेतन की नीति लागू की जाए, सरकारी मुलाजिमों की तरह छुट्टी, कमाई छुट्टी व मेडिकल लीव आदि बनती छुट्टियां लागू की जाएं तथा आउटसोर्सिंग/ठेकेदारी सिस्टम बंद करके रेगुलर भर्ती शुरू की जाए।

उन्होंने कहा कि सेहत विभाग के समूह ठेका/ आउटसोर्स मुलाजिमों की ड्यूटियां बहुत जोखिम भरी हैं। इन मुलाजिमों ने कोरोना महामारी दौरान अपनी जान की चिता न करते हुए फ्रंट लाइन पर खड़े होकर ड्यूटियां निभाई है। इनकी जायज मांगों के निपटारे के लिए पंजाब सरकार की मुलाजिम विरोधी नीतियों के खिलाफ सख्त एक्शन देने के लिए कच्चे मुलाजिम पक्के करो संघर्ष कमेटी द्वारा सेहत विभाग के मुलाजिमों की प्रदेश स्तरीय बैठक 22 सितंबर को सुबह 11 बजे मोगा में होगी। उन्होंने सभी पदाधिकारियों को बैठक में उपस्थित होने की अपील की। इस मौके पर सुरेन्द्र कुमार, नवदीप कौर, जसप्रीत सिंह, बलकरण सिंह, नसीब कौर, बलजीत कौर, सर्बजीत कौर, जगजीत कौर, रणजोत सिंह, अमनदीप कौर, बेअंत कौर आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran