जागरण संवाददाता, मोगा : सावन में शहर बारिश को तरस गया, भादों की शुरूआत में शुक्रवार को घिरी घनघोर घटाएं बड़ी उम्मीद लेकर आई थीं, लेकिन दोपहर में महज 10 मिनट तेज बारिश के बाद शाम तक रुक-रुक तक हलकी बारिश ने गर्मी से तो बड़ी राहत दे दी, लेकिन तेज बारिश के अरमान एक बार फिर मौसम की बेरुखी में धुल गए।

गौरतलब है कि पिछले लगभग तीन दशक में ये पहला मौका था जब सावन के पूरे महीने में शहर बारिश के लिए तरसता रहा। चारों सोमवार को एक बूंद भी आसमान से नहीं गिरी। शुक्रवार रात को लगभग आधा घंटे रिमझिम बारिश हुई थी। सुबह आंख खुली तो आसमान में घनघोर घटाएं थीं। मौसम विभाग पहले से ही तेज बारिश की घोषणा कर चुका था, ऐसे में उम्मीद जगी थी शहरवासियों की सावन भले ही सूना रहा तो, लेकिन भादों बरसेगा। दोपहर लगभग साढ़े बारह बजे के लगभग दस मिनट हल्की तेज बारिश के बाद मानसून के तेवर कमजोर हो गए। बाद में रुक-रुक कर एक दो बार हल्की फुहारें ही पड़ती रहीं, इससे मौसम को खुशनुमा हो गया, लेकिन बारिश की उम्मीद एक बार धुल गईं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!