संवाद सहयोगी, मोगा : सिविल अस्पताल में दो दिन से अल्ट्रा साउंड मशीन खराब होने जिले के दूर-दराज गांवों व कस्बों आए मरीजों को परेशान होकर या तो वापस लौटना पड़ रहा है या फिर निजी स्कैनिंग सेंटरों से महंगे दाम पर अल्ट्रा साउंड करवाना पड़ रहा है। वहीं अस्पताल के जच्चा-बच्चा वार्ड में गर्भवती महिलाओं की स्कैनिंग भी नहीं हो पा रही है, जिस कारण उन्हें निजी अस्पतालों में दो गुणा पैस देकर स्कैनिग करवानी पड़ रही है।

गौर रहे कि केन्द्र व राज्य सरकारों की ओर से गर्भवती महिलाओं की सरकारी अल्ट्रा साउंड सेंटर से फ्री अलट्रासाऊंड करवाई जाती है। मशीन में खराबी आने के चलते इमरजेंसी हालातों में प्राइवेट स्कैन सेंटरों से अपनी स्कैन करवानी पड़ रही है।

बता दें कि सिविल अस्पताल में रोजाना करीब आठ सौ लोग ओपीडी पर आते हैं। वहीं 20 गर्भवती महिलाओं समेत करीब 20 अन्य बीमारियों से पीड़ित मरीज अल्ट्रा साउंड स्कैनिग करवाने के लिए आते हैं। मोगा के सिविल अस्पताल के अल्ट्रा साउंड सैंटर को चलाने वाले रेडियोलोजिस्ट डॉ.हरप्रीत गरचा ने बताया कि पिछले दो-तीन दिनों से मशीन के रैजोल्यूशन कम हो रहा था जिस के चलते मरीज की सही स्थिति की जांच सही ढंग से नही हो पा रही थी। जिसको लेकर उन्होंने एसएमओ को अवगत करवाकर मशीन बनाने वाली कंपनी के ईंजीनियर को सूचित कर दिया था। जिस पर उन्होंने मशीन की तकनीकी खराबी को दूर करने के लिए काम शुरू कर दिया है। जल्दी ही मशीन ठीक हो जाएगी।

Posted By: Jagran