संवाद सहयोगी, मोगा : प्रमुख शिक्षण संस्था आइएसएफ कॉलेज ऑफ फार्मेसी में चल रही दो दिवसीय ऑनलाइन कांफ्रेंस का समापन समारोह किया गया। संस्था के डायरेक्टर डॉ. जीडी गुप्ता ने बताया कि इस दो दिवसीय कांफ्रेंस में देश एवं विदेश की जानी मानी हस्तियों ने व्याख्यान दिया। डॉ. एन गणेश हेड एंड सीनियर साइंटिस्ट जवाहर लाल नेहरू कैंसर अस्पताल एवं रिसर्च सेंटर भोपाल, डॉ. एसएस पांचुली प्रो. जझान यूनिवर्सिटी साउदी अरब, डॉ. मनीष अरोड़ा सिविल सर्जन कार्यालय मोगा, तरुण गुप्ता प्रोजेक्ट मैनेजर एंड डिलीवरी साइक्योरमिक दिल्ली, डॉ. मदन मोहन गुप्ता फैकल्टी ऑफ मेडिसन साइंसिस यूनिवर्सिटी ऑफ वेस्टइंडीज आदि ने कोविड-19 पर व्याख्यान, इसके उपचार के लिए सुझाव व इससे बचाव के लिए साइंटिफिक ढंग से समझाया व विश्व में चल रही इस पर रिसर्च के बारे में बताया।

इस दौरान ऑनलाइन लोगों ने पूछे कुछ सवालों के जबाव दिए। संस्था के उप प्रिंसीपल डॉ. आरके नारंग ने पूरी कॉलेज की विस्तृत रिपोर्ट को प्रस्तुत किया एवं बताया कि 6550 देश व विदेश के फार्मेसी एवं हेल्थ साइंसिस प्रोफेशनल से जुड़े लोगों ने भाग लिया। पूरी कांफ्रेंस का मुख्य केन्द्र बिदू कोविड-19 महामारी पर चल रही रिसर्च, बचाव, उपचार व टेक्निकल जो कि नई दवाई, वैकसीन बनाने में उपयोगी हो सकती है, पर चर्चा की गई। कांफ्रेंस के समापन पर सभी का धन्यवाद आर्गेनाइजिग सचिव प्रो. अमित शर्मा ने किया। कांफ्रेंस में मंच का संचालन प्रो. सौरभ कोसे व टेक्निकल माहिर इंजी. परनीत कुमार ने बड़े बखूबी ढंग से किया। संस्था के चेयरमैन प्रवीण गर्ग, सचिव इंजी. जनेश गर्ग, डॉ. मुस्कान गर्ग ने सभी को दो दिवसीय ऑनलाइन कांफ्रेंस की सफलता के लिए बधाई देते हुए कहा कि इस प्रकार के प्रयास संस्था की ओर से निरंतर जारी रहेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!