संवाद सहयोगी, मोगा : पंजाब सरकार द्वारा आम लोगों की सेहत को मुख्य रखते हुए अगस्त महीने से आयुष्मान भारत-सरबत सेहत बीमा योजना की शुरुआत की गई है। डिप्टी कमिश्नर संदीप हंस ने बताया कि आयुष्मान भारत सरबत सेहत बीमा योजना के अंतर्गत लाभपात्रों का पूरे परिवार समेत पांच लाख रुपये का कैशलेस इलाज करवाने की सुविधा दी जाएगी। इस स्कीम के अंतर्गत जिला मोगा के तकरीबन 51 हजार परिवारों को लाभ मिलेगा। डिप्टी कमिश्नर व कार्यकारी सिविल सर्जन डॉ. अरविन्दर सिंह गिल ने जिला निवासियों को अपने ई -कार्ड 20 अगस्त से पहले पहले बनाने की अपील की जिससे लाभपात्री इस स्कीम का शुरू होने पर अधिक से अधिक लाभ उठा सकें। कार्यकारी सिविल सर्जन डॉ. अरविन्दर सिंह गिल ने बताया कि इस स्कीम का लाभ दाखिल मरीजों को ही मिलेगा। उन्होंने बताया कि इस स्कीम अधीन बनने वाले ई कार्ड सिविल अस्पताल मोगा, कोट इसे खां, ढुड्डीके, बधनी कलां , निहाल सिंह वाला, बाघापुराना, डरोली भाई व सभी इंमपैनलड अस्पतालों में फ्री जबकि जिले के 102 कॉमन सर्विस सेंटरों में यह ई-कार्ड 30 रुपये की फीस के साथ बनाए जा रहे हैं। उन्होंने सेहत विभाग के आधिकारियों को हिदायत की कि इस स्कीम के संबंधित सभी जरूरी प्रबंध मुकम्मल कर लिए जाए जिससे किसी भी लाभपात्रों को किसी भी प्रकार की कोई समस्या न आए। रजिस्ट्रेशन के लिए ये कागजात हैं जरूरी

उन्होंने बताया कि रजिस्ट्रेशन के लिए जरूरतमंद इन सेंटरों पर आधार कार्ड के साथ किसान अगर फार्म, छोटे व्यापारी पैन कार्ड, उसारी कामगार बिल्डिंग एंड अंडर कंस्ट्रक्शन वर्कर वैलफेयर बोर्ड द्वारा जारी रजिस्ट्रेशन नंबर व नीला राशन कार्ड लेकर जाए। उन्होंने बताया कि पूरे कागज होने पर व्यक्तियों को ई-कार्ड जारी कर दिया जाएगा जिस के साथ वह इस स्कीम के लाभ लेने के योग्य हो जाएंगे। डिप्टी कमिश्नर ने सेहत विभाग के आधिकारियों को आदेश दिए कि इस स्कीम अधीन लाभपात्रियों की रजिस्ट्रेशन 20 अगस्त -2019 से पहले पहले यकीनी बनाई जाए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!