संवाद सहयोग, मोगा

जिले में दिन-ब-दिन बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ विभाग व पुलिस प्रशासन ने शहर में सख्ती बढ़ा दी है। ऐसे में स्वास्थ विभाग की टीमें पुलिस प्रशासन के सहयोग से जगह-जगह पर बिना मास्क लगाने वाले लोगों के सैंपल कर रही है तथा पुलिस प्रशासन बिना मास्क घूमने वाले लोगों को मास्क लगाने के बारे में प्रेरित कर रही है, लेकिन कुछ लोग मास्क की बात कहने के दौरान पुलिस से ही बहस शुरू कर देते है। जिसका मिशाल शुक्रवार को शाम लाल थापर चौक में स्वास्थ विभाग द्वारा की जा रही जांच के दौरान देखने को मिली। जहां बिना मास्क वाले एक व्यक्ति पुलिस कर्मी से बहस करने लगा। लेकिन पुलिस कर्मी ने भी उक्त व्यक्ति का सैंपल लेने के बाद ही जाने दिया ।

इस संबंध में एसएमओ डा. सुखप्रीत सिंह बराड़ नेकहा कि जिले में नववर्ष के आगमन से ही कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है, स्वास्थ विभाग जहां संक्रमण को गंभीरता से लेते हुए वैक्सीनेशन कैंप लगवाने के साथ-साथ लोगों को जागरूक कर रहा है, लेकिन फिर भी लोग बढने वाले संक्रमण को नजरअंदाज करके सरकारी आदेशों की अनदेखी कर रहे है। संक्रमण का पता लगाने के लिए पुलिस प्रशासन के सहयोग से विभिन्न स्थानों पर सैंपल लेकर संक्रमण का पता लगाया जा रहा है। ऐसे में लोगों को चाहिए कि वह बिना किसी देरी के सैंपल देकर स्वास्थ विभाग का सहयोग करे।

वैक्सीनेशन अभियान का ले लाभ

डा. बराड़ ने कहा कि स्वास्थ विभाग की ओर से कोरोना संक्रमण की रोकथाम करने को लेकर जहां वैक्सीनेशन मुहिम चलाई हुई हैं। वहीं अब लोगों को मास्क पहनने के साथ-साथ अन्य सावधानी अपनाने के लिए जागरूक किया जा रहा है, लोगों को जहां पुलिस व सेहत विभाग का सहयोग देना चाहिए वहीं अपने तथा अपने परिवार को संक्रमण से बचाने के लिए डोज लगवानी चाहिए। उन्होंने लोगों से अपील करते कहा कि घर से निकलते समय मास्क पहनने के अलावा भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों से दूरी बनाकर रखें, ताकि हम जिले में बढ़ने वाले कोरोना संक्रमण की गिनती पर रोकथाम लगा सकते हैं।

Edited By: Jagran