मोगा, [राज कुमार राजू/यश नौहरिया]। धर्मकोट के गांव सैद जलालपुर में रविवार को सुबह साढ़े पांच बजे हुए हत्याकांड को लेकर गांव में अब भी दहशत का माहौल है। हेड कांस्टेबल कुलविंदर सिंह ने पत्‍नी, सास, साले और साले की पत्‍नी की हत्या करने के बाद ससुर और अपने बेटे को भी मारने की कोशिश की। उसने छोटे साले की भी जान लेने का प्रयास किया। उसने तीनों पर भी फायरिंग की और उन लोगों ने पड़ोसियों के घर में छिपकर जान बचाई। दूसरी ओर, जांच में खुलासा हुआ है कि कुलविंदर सिंह झूठ बोलकर थाने से पुलिस की एके-47 राइफल ले गया था। वह कहीं छापा मारने की बात कर राइफल ले गया और ससुराल पहुंचकर तांडव मचा दिया। उसकी यह दूसरी शादी थी।

बेटे, ससुर व छोटे साले ने पड़ोसियों के घर में छिपकर बचाई जान

एसपी (डी) परमिंदर सिंह परमार ने बताया कि कुलविंदर ने चुनाव के दौरान एसटीएफ में ड्यूटी होने के नाम पर एके-47 अलॉट करवाई थी। आरोपित रविवार सुबह पुलिस लाइस से यह कहकर एके-47 लेकर गया कि वह एसटीएफ की रेड पर जा रहा है।

पहली पत्‍नी के परिवार से रखता था संबंध, इससे खफा थी दूसरी पत्‍नी

घटना के प्रत्यक्षदर्शी पड़ोसी महेंद्र सिंह व बलजीत सिंह ने बताया कि कुलविंदरसिंह सुबह लगभग साढ़े पांच बजे अपने सरकारी हथियार के साथ ससुर बोहड़ सिंह के घर पहुंचा और ललकारने के बाद फायरिंग शुरू कर दी । कुलविंदर सिंह ने ससुर बोहड़ सिंह व छोटे साले हरजिंदर सिंह व अपने बेटे मनप्रीत सिंह पर भी गोलियां चलाईं, लेकिन वे भागकर पड़ोस में छिप गए। कुलविंदर उनका पीछा करता हुआ वहां पहुंचा, लेकिन बोहड़ सिंह व अन्य वहां से भागने में सफल रहे। कुलविंदर इस दौरान उनके साथ हाथापाई करते हुए गालियां देने लगा। हंगामा होने पर वह फरार हो गया।

कुलविंदर की राजविंदर कौर से उसकी दूसरी शादी थी। वह पहली पत्‍नी से हुई बेटी को आइलेट्स करवाकर विदेश भेजना चाहता था। कुलविंदर पहली पत्‍नी के मायके परिवार से भी संबध रखता था, जिससे खफा उसकी दूसरी पत्नी राजविंदर कौर सात-आठ माह से मायके में ही थी।

पहली पत्नी से हुआ बेटा भी पुलिस में

आरोपित कुलविंदर सिंह की पहले गांव चौधरी वाला निवासी एक महिला से शादी हुई थी, जिसकी करंट लगने से मौत हो गई थी। पहली पत्‍नी से उसे एक बेटा व एक बेटी है। बेटी की शादी हो गई है। कुलविंदर का बेटा भी पुलिस में है और पीएपी जालंधर में तैनात है। पहली पत्‍नी की मौत के बाद कुलविंदर ने गांव सैद जलालपुर निवासी राजविंदर कौर से शादी की थी, जिससे उसे एक बेटा है।

झगड़े के बाद साले ने ही थाने में फोन कर कार्रवाई के लिए मना किया था

थाना धर्मकोट के प्रभारी इंस्पेक्टर सुखजिंदर सिंह ने कहा कि कुलविंदर शनिवार को दोपहर बाद अपनी आइ-20 कार से मोगा के ससुराल परिवार गया था, जहां उसने रात को शराब पीकर गाली-गलौज की। इसकी सूचना उसकी पत्‍नी ने पुलिस कंट्रोल रूम नंबर 112 पर दी गई थी। इसके बाद थाना धर्मकोट में तैनात एएसआइ बलविंदर सिंह उसे उसकी गाडी में थाने ले आए थे, कुछ देर के बाद साले जसकरण सिंह ने कार्रवाई न करने के लिए फोन किया था। इसके बाद पुलिस ने कुलविंदर को छोड़ दिया और सुबह 11 बजे थाने बुलाया था। बता दें कि कुलविंदर की फायरिंग में साला जसकरण भी मारा गया।

10 साल की जशनप्रीत अस्पताल में तलाश रही माता-पिता को

हत्याकांड की चश्मदीद 10 वर्षीय जशनप्रीत कौर ने सिविल अस्पताल में बताया कि उसका फूफा सुबह घर आया और मम्मी-पापा व अन्य लोगों पर गोलियां चलाना शुरू कर दी। एक गोली उसे भी लगी। बच्ची अभी तक मालूम नहीं है कि उसके माता-पिता की मौत हो चुकी है। वह बार-बार डॉक्टरों से कह रही थी कि उसके मम्मी-पापा को बुला दो।

बता दें कि पंजाब पुलिस के हेड कांस्टेबल कुलविंदर ने जमीन विवाद में रविवार सुबह साढ़े पांच बजे एके-47 राइफल से अंधाधुंध फायरिंग कर अपनी पत्‍नी राजविंदर कौर, सासा सुखविंदर कौर, साले जसकरण सिंह व साले की पत्‍नी इंद्रजीत कौर की हत्‍या कर दी थी। घटना के समय सारा परिवार सो रहा था। साले की 10 साल की बच्ची घायल हो गई। मोगा पुलिस लाइ में तैनात हेड कांस्टेबल कुलविंदर सिंह गुस्से में मैगजीन खाली होने तक सोए हुए लोगों पर फायरिंग करता रहा।

2014 में भी शराब पीकर की थी परिवार पर फायरिंग

कुलविंदर सिंह ने 2014 में भी शराब पीकर ससुराल वालों पर फायरिंग की थी। उस समय ससुराल पक्ष ने उसके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। मानसा जिले में भी उसके खिलाफ एक मामला दर्ज है। मोगा में ही उसके खिलाफ नशा तस्करी का भी केस दर्ज है।

पिग फार्म को लेकर चल रहा था विवाद

एसएसपी हरमन वीर गिल ने बताया कि हत्याकांड के पीछे पिग फार्म (सुअर फार्म) की जमीन का विवाद है। आरोपित ने कुछ समय पहले अपनी ससुराल की जमीन पर सुअर फार्म खोला था। ससुराल वाले उससे जमीन वापस मांग रहे थे। इसी बात पर कुलङ्क्षवदर ङ्क्षसह का ससुराल से विवाद चल रहा था।

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!