जागरण संवाददाता. मोगा : अकाली दल की नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत बादल ने शुक्रवार को शहर में दो जनसभाएं और रोड शो किया। महाराजा पैलेस में जनसभा में जब हरसिमरत बादल ने युवाओं से मुखातिब होकर पूछा कि कैप्टन सरकार में नौकरी मिली या नहीं मिली तो भीड़ में से कुछ युवा बोल पडे़, मंत्री व विधायकों के बेटों को मिली हमें नहीं। हरसिमरत बादल ने महाराजा पैलेस जनसभा को संबोधित करने के बाद वहां से जवाहर नगर तक रोड शो किया।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री निर्धारित समय से करीब तीन घंटे देरी से दोपहर दो बजे मोगा पहुंची। सबसे पहले बाघापुराना रोड स्थित महाराजा पैलेस में सभा को संबोधित किया। अकाली दल के एसओआई विंग के कार्यकर्ता गांव सिघावाला से मोटरसाइकिलों के काफिले के साथ हरसिमरत कौर को लेकर पैलेस पहुंचे। खचाखच भरे महाराजा पैलेस में हरसिमरत कौर ने लोगों की दुखती रग पर हाथ रखा। यहां पर ज्यादातर मोगा विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्र के कार्यकर्ता मौजूद थे। उन्होंने बुजुर्गों से पूछा कि जो पेंशन उन्हें बादल सरकार में मिल रही थी, अब मिल रही है क्या तो जबाव न में आया। आटा-दाल स्कीम का लाभ भी कैप्टन सरकार ने बंद कर दिया। हरसिमरत कौर ने युवाओं से पूछा कि कांग्रेस ने 2017 के चुनाव से पहले युवाओं के कार्ड बनाकर नौकरी देने का वादा किया था, क्या युवाओं को नौकरी मिली। हरसिमरत कौर के इस जबाव पर भीड़ में शामिल युवाओं ने कहा कि नौकरियां मंत्री व विधायकों के बेटों को मिलीं, उन्हें नहीं।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने सांसद मौहम्मद सदीक व स्थानीय विधायक डा. हरजोत कमल पर भी तीखे प्रहार किए। सांसद मोहम्मद सदीक को तो उन्होंने भगोड़ा तक कह डाला। चुनाव के बाद ढाई साल से सांसद कभी जनता के बीच मोगा में दिखे ही नहीं। सिर्फ सरकारी बैठकों व सरकारी कार्यक्रमों में ही आए। इसके बाद वे रोड शो करते हुए चौक शेखां, मेन बाजार, प्रताप रोड होते हुए जवाहर नगर स्थित चोखा पैलेस में पहुंची। रोड शो के दौरान पूरे बाजार में हरसिमरत कौर का जगह-जगह स्वागत हुआ। चोखा कांप्लेक्स में पुरुषों से ज्यादा संख्या महिलाओं की दिखी। इनमें ज्यादातर ऐसे परिवारों की महिलाएं थीं, जो आमतौर पर राजनीतिक कार्यक्रमों में कम ही देखी जा सकती हैं। यहां पर मोगा विधानसभा क्षेत्र के घोषित प्रत्याशी बरजिदर सिंह बराड़ मक्खन के साथ पूर्व मेयर अक्षित जैन भी मौजूद थे।

रोड शो के दौरान खरीदा करवा

पूर्व केन्द्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल जब रोड शो करते हुए शहर के प्रताप रोड स्थित बाजार में पहुंची तो वहां सड़क किनारे कुछ लोग करवा बेच रहे थे। हरसिमरत बादल ने करवा बेचने वाली एक दुकान पर अपनी गाड़ी रुकवाई। वहां करवा बेच रही रीतिका से हरसिमरत कौर बादल ने मिट्टी का करवा खरीदा। बदले में शगुन के रूप में रीतिका को 200 रुपये भी दिए।

शिवमंदिर में स्वागत की तैयारियां धरी रह गईं

मोगा से पहले हरसिमरत बादल ने बाघापुराना में मुदकी रोड स्थित डीएम पैलेस में रैली को संबोधित किया। यहां पर रैली अकाली दल के बाघापुराना विधानसभा क्षेत्र से घोषित प्रत्याशी तीरथ सिंह माहलां के नेतृत्व में आयोजित की गई थी। रैली के बाद हरसिमरत बादल को मोगा रोड स्थित शिव मंदिर में पहुंचना था। उनके शिव मंदिर के कार्यक्रम को देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर दिए गए थे। मेटल डिटेक्टर भी लगा दिया गया था। मंदिर में पूर्व मंत्री के स्वागत की तैयारियां की गई थीं, लेकिन रैली करने के बाद हरसिमरत मंदिर में जाए बिना सीधे मोगा के लिए रवाना हो गई। इसके चलते शिव मंदिर में सभी तैयारियां धरी रह गईं।

Edited By: Jagran