जागरण संवाददाता, मोगा : शहर मंडल कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष स्वतंत्रता दिवस समारोह पर झंडा फहराना ही भूल गए। राष्ट्रीय ध्वज न फहराने को लेकर दिए तर्क में वे विवादों में आ गए हैं। शहर मंडल कांग्रेस के अध्यक्ष विनोद बंसल का कहना है कि इस समय प्रदेश में कांग्रेस की सत्ता है, सत्ता के समय में कांग्रेस अपने दफ्तर में झंडा नहीं फहराती है, सरकारी प्रोग्राम में शामिल होते हैं। उधर पूर्व शहर अध्यक्ष पंडित शामलाल का कहना है कि वे हमेशा शहर दफ्तर में झंडा फहराने के बाद ही सरकारी प्रोग्राम में शामिल होते थे।

गौरतलब कि जिला कांग्रेस कमेटी के दफ्तर में हर बार की तरह परंपरागत ढंग से जिलाध्यक्ष महेशइंदर सिंह निहालसिंह वाला ने स्वतंत्रता दिवस समारोह में सुबह साढ़े आठ बजे ध्वजारोहण किया, बाद में सरकारी प्रोग्राम में शामिल होने पहुंचे, वहां शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने पिछले सालों की परंपरा को तोड़ते हुए राष्ट्रीय ध्वज फहराने की जरूरत ही नहीं समझी, उनका कहना है कि जब-जब कांग्रेस की सत्ता होती है तब तब कांग्रेस के दफ्तर में झंडा नहीं फहराया जाता है, सरकारी कार्यक्रम में ही हिस्सा लेते हैं।

शहर मंडल कांग्रेस प्रधान विनोद बंसल की इस दलील को पूर्व शहर अध्यक्ष व जिला कांग्रेस के प्रधान पूर्व विधायक महेशइंदर सिह निहालसिंह वाला दोनों ही गलत बताया है। उन्होंने कहा कि सरकार व पार्टी दोनों अलग हैं, सरकार होने पर पार्टी कार्यालय पर झंडा फहराने की परंपरा हमेशा से बनी हुई है, इस परंपरा को सरकारी कार्यक्रम से नहीं जोड़ा जा सकता है। पं.शामलाल का कहना है कि वे 15 साल से भी ज्यादा समय कांग्रेस के अध्यक्ष रहे, हर बार मंडी में शहर दफ्तर में झंडा फहराते रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!