संवाद सहयोगी,मोगा

सिविल सर्जन डा. अमरप्रीत कौर बाजवा के दिशा-निर्देशों तथा सेहत ब्लाक डरोली भाई के सीनियर मेडिकल अफसर डा. इन्द्रबीर गिल की अगुआई में ब्लाक डरोली भाई के समूह हेल्थ एवं वेलनेस सेंटरों पर आयोडीन युक्त नमक के बारे में जानकारी देने के लिए जागरूकता सेमिनार करवाया गया।

इस मौके पर सीएचसी डरोली भाई की डा. सुखमनदीप कौर ने कहा कि आयोडीन एक महत्वपूर्ण सूक्ष्म पौष्टिक तत्व है, जो आम मनुष्य के शरीर में बढ़ोत्तरी व विकास के लिए बहुत जरूरी है। गर्भवती महिलाओं में आयोडीन की कमी से गर्भ में पल रहे बच्चे का पूरा विकास नहीं हो पाता है। आयोडीन की सही मात्रा न मिलने पर बच्चे की गर्भ में ही मौत हो सकती अथवा बच्चा मरा हुआ पैदा हो सकता है। इस अवस्था को न्यूनेटल केमिकल हाईपोथाइरोडिजम कहते हैं। इस मौके पर डा. जसलीन ने कहा कि हमेशा पूरे परिवार के लिए आयोडीन युक्त नमक ही खरीद करें। सही मात्रा में सही आयोडीन लेने के लिए हमें भोजन में दूध, दही, अंडा, मच्छी व समुद्री भोजन का प्रयोग अधिक से अधिक करना चाहिए। आयोडीन कम करने वाली सब्जियां फूल गोभी, पत्ता गोभी से परहेज करना चाहिए। इस मौके पर राजेन्द्र कुमार, मंजीत कौर , वरिदर सिंह, समूह आशा वर्कर, सेहत सुपरवाइजर बलराज सिंह उपस्थित थे।

Edited By: Jagran