मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बाद पुलिस ने सुलझाई केस की गुत्थी

संवाद सहयोगी, मोगा : गांव तारेवाला में करीब पांच माह पहले आधी रात को एनआरआइ बुजुर्ग की हत्या कर उसकी पत्नी को घायल करने समेत घर में पड़ी नकदी व जेवरात लूटने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। करीब पांच माह बाद स्पेशल स्टाफ सेल मोगा पुलिस ने इन तीनों आरोपियों से उनके चौथे साथी जोकि इस समय जेल में बंद है उसके बारे में भी जानकारी हासिल कर ली है कि कैसे आरोपियों ने उक्त घटना को अंजाम दिया था। सोमवार को एसएसपी कार्यलय में प्रेसवार्ता का आयोजन करते एसपीडी वजीर ¨सह खैहरा तथा डीएसीपी डी सरबजीत ¨सह बाहिया ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि स्पेशल स्टाफ सेल मोगा के प्रभारी इंस्पेक्टर किक्कर ¨सह की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर रवि कुमार उर्फ पोपो वासी गुरु नानक नगर मोगा, शिवा कुमार वासी परवाना नगर मोगा और बबलू कुमार वासी परवाना नगर मोगा को शक के आधार पर गिरफ्तार कर पूछताछ की तो आरोपियों ने कबूल किया कि वह तीनों मजदूरी करते हैं। तीनों यूपी व बिहार के रहने वाले हैं। आरोपियों ने बताया कि उन्होंने अपने साथी कुल¨वदर ¨सह सोनी वासी गांव तारेवाला के साथ मिलकर चोरी की योजना बनाई। कुल¨वदर सोनी ने उनको बताया कि उनके गांव में एक एनआरआइ दंपत्ति अकेली ही रहती है। जिसके चलते उन चारों ने मिलकर बीते वर्ष 22 जुलाई की रात को गांव तारेवाला में एनआरआइ दंपत्ति के घर घुसा। इस दौरान एनआरआइ गुरचरन ¨सह (64) ने शोर मचाया जिसपर उन्होंने उसपर तेजधार हथियार से हमला किया और उसकी मौत हो गई। उसकी पत्नी बलजीत कौर भी गंभीर रूप से घायल हो गई। इस दौरान आरोपियों ने उनके घर से 35 हजार रुपये नकदी, 8 तोले सोने के जेवरात, 65 मनीला के डालर, एक चांदी का कड़ा चोरी कर लिया। चौथा साथी कुल¨वदर सोनी लूटपाट करने के आरोप में फरीदकोट जेल में बंद है। उक्त तीनों आरोपियों को अदालत में पेश कर उनका पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा, ताकि चोरी किया सामान बरामद किया जा सके।

कुल¨वदर सोनी के खिलाफ दर्ज है चार केस

पुलिस रिकार्ड से मिली जानकारी के अनुसार फरीदकोट जेल में बंद कुल¨वदर ¨सह सोनी के खिलाफ पहले से लूटपाट करने के चार केस दर्ज हैं। जानकारी के अनुसार आरोपी ने 11 दिसंबर 2017 को गांव मोठावाली में लोन कंपनी के एक मुलाजिम से 6 हजार रुपये नकदी, एक मोबाइल व बाइक छीना था। 14 दिसंबर को गांव झंडेआणा में व्यक्ति से 28 हजार रुपये नक्दी छीनी थी, 20 दिसंबर को गांव गज्जणवाला में लोन कंपनी के मैनेजर से 1.23 लाख रुपये नकदी, एक बैग व टैब छीना था। 27 दिसंबर को गांव डरोली भाई के पास व्यक्ति से 7 हजार नक्दी व बैग छीना था, वहीं 27 दिसंबर की रात को आरोपी ने पंजाब एंड ¨सध बैंक के सहायक मैनेजर से बैंक की चाबियां व बैग छीना था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!