मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

डीसी ने कहा अन-रजिस्टर्ड ट्रैवल एजेंटों के झांसे में न आए लोग

संवाद सहयोगी, मोगा : लाइसेंस न बनाने वाला कोई भी ट्रैवल एजेंट्स बिना लाइसेंस नंबर दर्शाए किसी भी तरह का कोई विज्ञापन अब नहीं कर पाएगा। यदि कोई ऐसा करेगा तो उसके खिलाफ जिला प्रशासन कड़ी कानूनी कार्रवाई करेगा। ये आदेश बुधवार को डीसी दिलराज ¨सह ने जारी किए हैं। साथ ही डीसी ने लोगों से अपील की है कि कोई भी व्यक्ति बिना लाइसेंस वाले ट्रैवल एजेंट के पास न जाए, क्योंकि इस तरह के ट्रैवल एजेंट उन्हें काफी वित्तीय नुकसान पहुंचा सकते हैं। दैनिक जागरण बीते सप्ताह अवैध ट्रेवल एजेंटों के बारे में विस्तार से खबर का प्रकाशन किया गया था, जिसके आधार पर डीसी ने उक्त आदेशों को जारी किया है।

हाईकोर्ट भी जारी कर चुका है आदेश

डीसी दिलराज ¨सह ने बताया कि पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट आदेश जारी कर चुका है कि कोई भी ट्रेवल एजेंट बिना लाइसेंस बनवाए किसी तरह का कोई विज्ञापन नहीं कर सकता। यदि कोई ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई जिला प्रशासन की ओर से की जाएगी। जो कोई ट्रैवल एजेंट किसी तरह का विज्ञापन करता है तो उसे हरेक विज्ञापन पर अपना रजिस्ट्रेशन नंबर अवश्य दर्ज करना होगा, अन्यथा उसे अवैध मान लिया जाएगा।

लोगों को लुभाने के लिए भ्रमित कर रहे ट्रैवल एजेंट

जिले भर में इस समय ट्रेवल एजेंट विदेश जाने के इच्छुक लोगों को विभिन्न विज्ञापनों के जरिए लुभाने का प्रयास कर रहे हैं। भोले भाले लोग इन विज्ञापनों के जरिए ट्रेवल एजेंट के चंगुल में फंसकर लाखों रुपये की ठगी का शिकार बन रहे हैं। विदेश जाने के इच्छुक लोगों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ रही है और ट्रेवल एजेंट इसका अपने हिसाब से लाभ उठा रहे हैं। इस लूट को बंद करने के लिए ही डीसी ने कड़े आदेशों को जारी कर लोगों को सतर्क करने का प्रयास किया है।

149 ट्रैवल एजेंटों ने किया आवेदन

जिले भर में करीब दो सौ से ज्यादा ट्रैवल एजेंट लोगों को विदेश भेजने का काम कर रहे हैं, लेकिन उक्त एंजेटों में से करीब 149 ट्रैवल एजेंट्स ने ही प्रशासन के पास रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन किया है। सरकारी आंकड़ों अनुसार जिले भर में इस समय महज 26 ट्रैवल एजेंटों को रजिस्ट्रेशन जारी की गई है और जिला प्रशासन अभी तक 15 ट्रैवल एजेंटों पर मामले दर्ज करवा चुका है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!