मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सहयोगी, मोगा : आइएसएफ कॉलेज ऑफ फार्मेसी में बुधवार को प्राइवेट अनएडिड कॉलेज एसोसिएशन की बैठक हुई। इस बैठक में द¨वदरपाल ¨सह कन्वीनर पुटिया एमआरएसपीटीयू भ¨टडा, फिरोजपुर ग्रुप ऑफ कॉलेज के चेयरमैन हीरा लाल शर्मा, आइएसएफ कॉलेज ऑफ फार्मेसी के चेयरमैन प्रवीण गर्ग, लाला लाजपत राय ग्रुप आफ कॉलेज के चेयरमैन केके कौड़ा, डॉ. रमेश बांसल, सुरेश बांसल, नार्थ वेस्ट ग्रुप के चेयरमैन लखवीर ¨सह गिल, देश भगत कॉलेज के डायरेक्टर गौरव गुप्ता, आरके गुप्ता, डॉ. वीपी गुप्ता, शिवा वशिष्ठ, अकलियां कॉलेज के चेयरमैन गुरतेज ¨सह बराड़, आर्य भट्टा कॉलेज के राकेश गर्ग, ¨कगज कॉलेज बरनाला के गुर¨वदर ¨सह विशेष तौर पर उपस्थित हुए। इस बैठक में उपस्थित सदस्यों ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अम¨रदर ¨सह से पुरजोर अपील की कि पंजाब के टेक्निकल कॉलेजों में जो छात्र पढ़ रहे हैं उनकी एससी स्कालरशिप की राशि लगभग 1200 करोड़ पंजाब सरकार से प्राप्त नहीं हुई, जिसके कारण संस्था में पढ़ा रहे शिक्षकों के वेतन का भुगतान नहीं किया जा पा रहा है। जिसके कारण छात्रों एवं संस्थानों का भविष्य अंधकारमय होता जा रहा है। पंजाब सरकार से गुजारिश किया जाता है कि जो स्कालशिप की धन राशि 115 करोड़ रुपये सरकार से प्राप्त कर व जो राशि 115 करोड़ रुपये केंद्र सरकार से प्राप्त हुए, उसको तुरंत प्रभाव से रिलीज किया जाए, ताकि शिक्षा प्राप्त कर रहे छात्रों एवं संस्थानों को बचाया जा सकें। यह अति आवश्यक ही नहीं, बल्कि हजारों विद्यार्थियों एवं शिक्षकों व संस्थानों के भविष्य को बचाने का सवाल है। उन्होंने कहा कि प्राइवेट अनएडिड कालेज एसोसिएशन पंजाब सरकार से कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करने को प्रयासरत रहेगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!