संसू, मानसा: जिला पुलिस ने नशा तस्करों के खिलाफ चलाई मुहिम के तहत विभिन्न स्थानों से छह नशा तस्करों को काबू कर नशीले पदार्थ बरामद कर मामले दर्ज किए। हालांकि एक नशा तस्कर फरार हो गया।

इसके तहत थाना बोहा पुलिस द्वारा गुप्त सूचना के अधार पर की गई नाकेबंदी के दौरान एक गाड़ी की तलाशी लेने के उपरांत 21 डिब्बे अवैध शराब बरामद की गई। पुलिस ने इस मामले में बरनाला के वार्ड नंबर दो निवासी अजय शर्मा व गांव बाहमणवाल के अंग्रेज सिंह को नामजद किया। फिलहाल अंग्रेज सिंह की गिरफ्तारी होना बाकी है।

इसी तरह झूनीर पुलिस ने गुप्त सूचना के अधार पर की गई छापामारी में गांव घुरकणी के सुखराम सिंह को 145 कैप्सूल सहित काबू कर मामला दर्ज किया। एक अन्य मामले में थाना झूनीर पुलिस ने मानसा के चंदन उर्फ बब्लू को सात ग्राम हेरोइन सहित काबू किया, जबकि सदर बुढलाडा थाना पुलिस ने बीरोके कलां वासी सुखविदर सिंह उर्फ काका को 40 लीटर लाहन सहित काबू किया। थाना सदर बुढलाडा पुलिस ने ही 700 नशीली गोलियां सहित तलवंडी साबो के वार्ड नंबर 12 निवासी विजय कुमार व तलवंडी साबो के गांव गुरुसर थान के जगतार सिंह को काबू कर मामला दर्ज किया। खड़े टेंपो से टकराकर हादसाग्रस्त हुई कार के चालक पर केस दर्ज बुधवार देर रात को गोनियाना-जैतों रोड पर खड़े टेंपो से टकराकर हादसाग्रस्त हुई कार के चालक पर थाना नेहियांवाला पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। हादसे में टेंपू चालक जगदीश सिंह निवासी गांव मत्ता जिला फरीदकोट के बेटे शमशेर सिंह के बयान पर कार चालक पंकज कुमार निवासी जैतो मंडी पर मामला दर्ज किया गया है। वहीं वीरवार को मृतक के शव का पोस्टमार्टम कर अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया।

शमशेर सिंह के मुताबिक उसके पिता बठिडा जिले में गैस पाइप लाइन बिछाने का काम कर रही गुजरात पाइप कंपनी में काम करते थे। बीती बुधवार को वह अपने कैंटर से पाइप लेकर गोनियाना-जैतो रोड पर गए थे। उसके पिता टेंपो को सड़क किनारे खड़ा कर पाइपें उतर रहे थे। इस दौरान गोनियाना से जैतो मंडी की तरफ जा रही एक तेज रफ्तार बेकाबू हो गई और उसके पिता को अपनी चपेट में ले लिया। हादसा इतना भयंकर था कि उसके पिता का सिर धड़ से अलग होकर सड़क पर गिर गया, जबकि हादसे में कार भी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। कार में सवार बलविदर सिंह व रंजीत सिंह निवासी जैतो मंडी गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें नौजवान वेलफेयर सोसायटी के सदस्यों ने गोनियाना मंडी के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया, लेकिन हालत गंभीर होने के कारण उन्हें गोनियाना सिविल अस्पताल से दिल्ली हार्ट अस्पताल रेफर कर दिया गया। उनकी भी हालत अभी गंभीर बनी हुई है।

Edited By: Jagran