एसके शर्मा, बरेटा : पूर्व अकाली-भाजपा सरकार ने लोगों को शुद्ध पानी देने के उदेश्य से गांवों में आरओ प्लांट लगाए गए थे, लेकिन अब इन आरओ प्लांट की संभाल नहीं होने से यह धीरे-धीरे बंद हो रहे है। जिस कारण लोग अपने घरों में आरओ लगवाने को मजबूर हो रहे है, जो लोग अपने घरों में आरओ नहीं लगवा सकते, वह दूषित पानी पीने को मजबूर है। क्षेत्र में धरती का पानी दूषित होने के कारण इलाके में कई तरह की बीमारियां फैल रही है।

इस बारे में बरेटा के अपना क्लब के मेंबर सुखविदर सिंह, कुलदीप सिंह, गगनदीप सिंह व बिट्टू शर्मा का कहना है कि आरओ प्लांट शहर में साफ-सुथरे स्थान पर लगाए गए है, लेकिन गांव में लगाए गए आरओ छपड़ के किनारे स्थित है, यहां हर ओर गंदगी फैली हुई है। जिस कारण बरेटा गांव की ओर लगे आरओ बंद हो गए है। इसी तरह अब धर्मपुरा रोड पर लगे आरओ बंद होने की कगार पर है।

स्थानीय लोगों की मांग है कि बंद पडे आरओ प्लांट को फिर से चालू किया जाए, ताकि लोगों को शुद्ध पानी मिल सके।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!