संसू,मानसा : गांव रढ़ में 11 वर्षीय बच्ची खुशबू पेटी में बंद मिली। इस मामले में जोगा पुलिस ने उसकी बुआ के विरुद्ध मामला दर्ज किया है। आरोप है कि बुआ उसके भाई को पीट रही थी। इससे डरकर बच्ची में छिप गई थी। इस दौरान पेटी बंद हो गई। बच्ची 24 घंटे तक पेटी में बंद रही। आरोपित महिला की गिरफ्तारी होनी अभी बाकी है।

मानसा के एसएसपी डा. नानक सिंह ने बताया कि गांव रढ़ की रहने वाली सुनीता के साथ उसका भतीजा जोनी व भतीजी खुशबू रहते हैं। दोनों के माता-पिता की मौत हो गई। तभी से वे अपनी अपनी बुआ सुनीता के साथ रहते हैं। सुनीता इन दोनों बच्चों के साथ मारपीट करती थी। इस कारण बच्चों में इसकी दहशत थी।

बच्ची के लापता होने की गुरुद्वारा से अनाउंसमेंट भी करवाई

एक दिन सुनीता भतीजे को पीट रही थी। भतीजी खुशबू डर के मारे पेटी में छुपकर बैठ गई। पेटी ऊपर से बंद हो गई। बाद में उसकी बुआ सुनीता उसकी तलाश करती रही, लेकिन खुशबू कहीं नहीं मिली। बच्ची के लापता होने के बाद सुनीता ने पुलिस के पास शिकायत दर्ज करवाई कि उसकी भतीजी लापता है। इसके अलावा गुरुद्वारा साहिब से बच्ची के लापता होने संबंधी अंनाउसमेंट भी करवाई गई थी। गांववासियों ने यह बात आम आदमी पार्टी के विधायक डा.विजय सिंगला को बताई।

डीएसपी को साथ लेकर विधायक पहुंचे लड़की को खोजने

विधायक के आग्रह पर एसएसपी डा. नानक सिंह ने बच्ची का पता लगाने के लिए डीएसपी संजीव गोयल की ड्यूटी लगाई। इसके बाद डीएसपी संजीव गोयल व विधायक डा. विजय सिंगला सुनीता के घर पर भी पहुंचे। डीएसपी ने गांव में पहुंच कर जांच शुरू की और आसपास के सीसीटीवी कैमरें खंगाले , लेकिन कैमरों से कुछ नहीं मिला। उन्होंने गांववासियों से बातचीत की तो यह बात सामने आई कि सुनीता बच्चों के साथ बहुत बुरा व्यवहार करती है। उनके साथ मारपीट करती रहती है।

इसके बाद डीएसपी ने सुनीता के घर की तलाशी ली तो चौबारे में पडी लोहे की पेटी में बच्ची को बेसुध हालत में बरामद किया । इसके बाद बच्ची को लेकिर विधायक डा. विजय सिंगला ने मेडिकल सहायता दिलवाई। डीएसपी संजीव गोयल ने बताया कि गांव रढ़ के रहने वाले बलिहार सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि सुनीता अपने भतीजे जोनी व भतीजी खुशबू के साथ मारपीट कर उन्हें मानसिक तौर पर परेशान करती है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है । आरोपित महिला को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बच्ची की हालत अभी ठीक है।

Edited By: Pankaj Dwivedi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट