संसू, भीखी: एसएस जैन सभा भीखी में जैन सभा के तत्वावधान में उत्तर भारतीय प्रवर्तक प्रज्ञा महर्षि पुज्य गुरुदेव सुमन मुनि महाराज के सुशिष्य व्याख्यान वाचस्पति संघ रत्न भंडारी बाबा सुमंत भद्र महाराज, व्योवृद्ध राम मुनि महाराज, युवा रत्न सुशांत मुनि महाराज के सान्निध्य में जैन सभा के तत्वावधान में जैन धर्म का पवित्र त्योहार पर्यूषण महापर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

महापर्व संवत्सरी 11 सितंबर को अंतकूत दशांग सूत्र की वाचना के पश्चात संवत्सरी के अवसर पर अनेक प्रकार के सांस्कृति कार्यक्रम हुए। इस कार्यक्रम में बच्चों ने जैन धर्म के भजनों व कविताओं को बहुत ही सुन्दर ढंग से प्रस्तुत किया। संघ ने बच्चों को पारितोषिक देकर सम्मानित किया व बच्चों का मनोबल बढ़ाया। सभी श्रावक-श्राविकाओं ने यथा शक्ति, वृत, एकासना, आयमिवल आदि करके पर्यूषण पर्व की अराधना की। शाम को प्रतिक्रमण के पश्चात सभी 84 लाख जीवों से क्षमा याचना की। जैन संघ के महामंत्री प्रवीण जैन ने बताया कि पर्यूषण महापर्व के अंतिम दिन श्री संघ की ओर से जप तपस्या करने वालों के पारने कराए और उनको सम्मानित किया गया।

क्षमावाणी पर्व संवत्सरी पर पधारे सहधर्मी भाई तेरापंथ धर्मसंघ के अध्यक्ष एवं सदस्यों को श्री संघ की ओर से पर्यूषण महापर्व की बधाई दी गई। संघ के अध्यक्ष संत राम जैन, सीनियर अध्यक्ष पियूष जैन, उपाध्यक्ष विनोद जैन, पूर्व अध्यक्ष डा. राज कुमार, कोषाध्यक्ष सुरेंद्र जैन, डा. बाल कृष्ण जी, सुरेश जैन, राजेश मितल, मदनलाल, सुभाष जैन, जैन कुमार, गोपाल जैन आदि ने सभी को सम्मानित किया। मंत्री प्रवीण जैन ने बताया कि इस अवसर पर तेरापंथ धर्मसंघ के अध्यक्ष डा. फूलचंद्र जैन, अशोक जैन, सुशील जैन, यशपाल जैन, सोनू जैन, राजीव जैन, विकी जैन, जैन महिला संघ की अध्यक्ष संतोष जैन, कंचन जैन, ऊषा जैन, नीरू जैन, रेनू जैन, प्रवीण जैन, सरोज जैन, ऊषा जैन, आशा जैन, कमलेश जैन आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran