संसू, मानसा: उत्तरी भारत के आठ राज्यों में हुए स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 में मानसा शहर ने 8वां स्थान हासिल किया है।

नगर कौंसिल मानसा के कार्यकारी अधिकारी रमेश कुमार ने बताया कि उत्तरी भारत के हरियाणा, हिमाचल, जम्मू, कश्मीर, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उतराखंड, दिल्ली एनसीआर व पंजाब के 95 शहरों, जिनकी अबादी 50 हजार से एक लाख है, के हुए स्वच्छ मुकाबले में मानसा शहर ने 8वां स्थान प्राप्त किया, जब कि पंजाब में इस कैटेगिरी के 23 शहरों में पांचवा स्थान हासिल किया। उन्होंने कहा कि तीन साल पहले नगर कौंसिल द्वारा सालिड वेस्ट मैनेजमेंट का काम करवाकर मेटीरियल रिकवरी फैसिलिटी का काम शुरू किया गया था, जिसके चलते शहर में पुख्ता साफ-सफाई हो पाई। उन्होंने शहर वासियो से सहयोग की अपील करते हुए कहा कि वह अपने घरों का गीला-सुखा कुड़ा अलग-अलग कर रेहड़ी में डालें। उन्होंने इस सफलता का श्रेय समूह शहर वासियों के अलावा सफाई शाखा के सेनेटरी इंस्पेक्टर बलजिदर सिंह, तरसेम सिंह, पवन कुमार, मुकेश कुमार, कीमती लाल, गगनदीप व थ्री डी सोसायटी के समूह मुलाजिमों व कर्मचारियों को दिया। आशा वर्करों ने घग्गर पुल पर हाईवे किया जाम अपनी मांगो को लेकर बीते 17 नवंबर से धरने पर बैठीं आशा वर्करों ने घग्गर पुल पर धरना लगा कर हाईवे जाम किया। यूनियन नेता वीरपाल कौर व किरनदीप कौर ने कहा कि आशा वर्करों को हरियाणा की तर्ज पर चार हजार रुपये मान भत्ता दिया जाए। इन्सेंटिव व टीए लागू किया जाए। अगर उनकी मांगों को पूरा न किया गया तो आने वाले समय में कड़ा संघर्ष किया जाएगा। धरने के दौरान ट्रैफिक जाम होने से लोग काफी परेशान रहे।

Edited By: Jagran