संसू, मानसा : जिले के खरीद केंद्रों में बारदाना खत्म होने को लेकर बुधवार को सिरसा रोड पर आढ़तियों, किसानों व मजदूरों ने सिरसा रोड पर जाम लगाया। आढ़ती यूनियन के अध्यक्ष मुनीष बब्बी दानेवालिया ने कहा कि हमने खरीद शुरू होने से पहले डीसी मानसा को मिलकर सूचित कर दिया था कि चार-पांच दिन से अधिक का बारदाना नहीं है। इसलिए पुख्ता प्रबंध किए जाएं, लेकिन प्रशासन ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया। जो कांग्रेस नेता गेहूं खरीद शुरू होने के मौके पर फोटो सेशन में आगे रहते हैं वह अब खरीद केंद्रों में आकर बारदाने का हल करें। उन्होंने कहा कि जहां मौसम खराब है, बेमौसमी बारिश के कारण पहले से ही बहुत सारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है, वहीं बारदाना ना होने के कारण जहां मजदूर वर्ग खाली बैठा है, वहीं किसानों व आढ़तियों को भी बहुत सारी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है।

इस अवसर पर मनोज कुमार, भूषण कुमार, काला रल्ला, मनी बंसल, राकेश काकू व बिद्रपाल आदि ने कहा कि पंजाब सरकार हर फ्रंट पर फेल साबित हुई है। पंजाब सरकार ने मंडियों में गेहूं आने से पहले बड़े-बड़े वायदे किए थे कि अनाज का दाना-दाना खरीदा जाएगा। किसानों की छह महीनों की मेहनत जहां बेमौसमी बारिश कारण खराब हो रही है, वहीं सरकार की मंडियां नीतियों की फसल बर्बाद करने में योगदान डाल रही है।

किसान नेताओं व गल्ला मजदूर यूनियन के नेता बचित्र सिंह ने कहा कि मजदूर वर्ग कई कई दिनों से बेकार मंडियों में बैठा है। पंजाब सरकार अपनी जिम्मेवारी से ना भागे और वह अपनी जिम्मेवारी समझते हुए मंडियों में बारदाने का प्रबंध करके मजदूर वर्ग को आती दिक्कतों का हल करे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021