जागरण संवाददाता, बठिडा

आम आदमी पार्टी की विधायक प्रो. बलजिदर कौर, विधायक रुपिदर कौर रूबी व जिला प्रधान नील गर्ग ने कहा कि कोरोना काल में कैप्टन अमरिदर सिंह की अगुआई वाली कांग्रेस सरकार लोगों को बढि़या इलाज देने में फेल हुई है, जिस कारण गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीज अस्पतालों में इलाज न होने के कारण मुश्किल से दिन काट रहे हैं।

उन्होंने कहा कि बठिडा के कैंसर अस्पताल में बठिडा व मानसा के अलावा हरियाणा व राजस्थान के 300 से अधिक मरीज इलाज करवाने के लिए आते थे। मगर अब अस्पताल को कोविड सेंटर में तबदील करना ठीक नहीं है। यहां तक कि कोरोना महामारी कोरोना महामारी को देखते हुए न तो कोई नया अस्पताल बनाया गया है, न ही डाक्टरों समेत पैरा मेडिकल स्टाफ की भर्ती की गई है। जिस अस्पताल में हर रोज आठ से अधिक सर्जरी होती थी, वह अब बंद कर दिया गया है। इस कारण मरीजों को काफी परेशानी होगी।

उन्होंने बताया कि कोरोना के कारण हर रोज पाजिटिव केसों के अलावा मौतों का आंकड़ा बढ़ रहा है। जिला प्रधान नील गर्ग ने कहा कि राज्य में सेहत सुविधाओं का ढांचा विकसित करने की जगह सरकार ने अन्य गंभीर बीमारियों का इलाज ही बंद कर दिया है। दूसरी तरफ निजी अस्पतालों में लोगों की इलाज के नाम पर आर्थिक लूट की जा रही है। पार्टीबाजी से ऊपर उठकर जरुरतमंदों की मदद करें : मराड़

सभी राजनीतिक दलों के नेताओं और वर्करों को पार्टीबाजी से ऊपर उठकर कोरोना महामारी में अधिक से अधिक गरीब परिवारों और जरुरतमंदों की सहायता करनी चाहिए । इन विचारों का खुलासा समाजसेवी डा. जगसीर सिंह मराड़ ने किया। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए सरकार ने जो हिदायत जारी की है उसके साथ बहुत सारे लोगों का रोजगार खत्म हो गया है और व रोटी से मोहताज हो गए है। इसलिए इस तरह के लोगों की पहल के आधार पर मदद की जाए ताकि हर किसी की जरुरत पूरी हो सके। उन्होंने लोगों को अपील की कि सरकार की तरफ से जारी हिदायतों की पालन करनी चाहिए और लोगों को जागरुक करने के लिए आगे आना चाहिए।