जागरण संवाददाता, फरीदकोट/लुधियाना। Punjab Monsoon Alert! पंजाब के कई शहराें में वीरवार काे बारिश का दाैर जारी रहा। पिछले आठ घंटे में जहां फरीदकोट में 80 एमएम बारिश रिकाॅर्ड की गई वहीं लुधियाना में बादल छाने के बाद धूप खिल गई है। मौसम विभाग ने एक अगस्त तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा फरीदकाेट में हो रही बारिश के फलस्वरूप जिले के शहरों के निचले हिस्सों में डेढ़ से दो फुट तक जल-जमाव की स्थित बनी हुई है।

बारिश और जलभराव के बीच वाहन चालकों को ज्यादा परेशानी हो रही है। ऐसे में दोपहिया और चाैपाहिया वाहन पानी के बीच बंद हाे गए। फरीदकोट शहर में सबसे ज्यादा खराब हालत दिखाई दे रहे है। कन्हैया चौक, तालाब मोहल्ला, नेहरु मार्केट, सिटी थाना, सिविल अस्पताल फरीदकोट, नई अनाज मंडी, फिरोजपुर रोड़, बलबीर बस्ती, बाजीगर बस्ती की सड़कों पर दो से ढ़ाई फुट तक पानी भरा हुआ है, बस्तियों के कुछ घरों में भी बारिश का पानी भरने आशंका बढ़ रही है।

नालों के ओवरफ्लो होने से धान की फसलों के डूबने की बढ़ी आशंका

बुधवार शाम से हो रही मूसलाधार बारिश के परिणामस्वरूप नालों के उफान की स्थिति बनी हुई है, ऐसे में यदि अगले कुछ घंटे और इसी तरह से बारिश जारी रही तो ऊफनाते नालों का पानी आसपास के धान की फसल में भरेेगा, जिससे फसल के डूबने की आशंका प्रबल होगी।

नरमा व हरी सब्जियों के लिए नुकसानदायक है बारिश

बारिश फूलों से लदी नरमा फसल के खेतों में पानी भरने से वह गिर रही है। यदि कुछ समय तक इन खेतों में बारिश का पानी भरा रहता है तो फसल की जड़ों के गलने से इनके सूखने की आशंका बढ़ गई है। यहीं नहीं हरी सब्जियाें के खेतों में बारिश का पानी जमा होने से उनके भी गलकर सूखने की आशंका बढ़ गई है।

यह भी पढ़ें-Tokyo Olympics 2020: अमृतसर के हरमनप्रीत बने भारतीय हाॅकी टीम की जीत के हीराे; रुपिंदर गाेल करने से चूके

 

Edited By: Vipin Kumar