लुधियाना, जेएनएन। जल सप्लाई व सैनिटेशन कांट्रेक्ट वक्र्स यूनियन की मीटिंग में फैसला लिया कि पंजाब सरकार के खिलाफ 21 अगस्त से मोर्चा खोला जाएगा। इसडू भवन में आयोजित मीटिंग की प्रधानगी करते हुए वरिंदर मोमी ने बताया कि विभाग में 12 वर्ष से मुलाजिम ठेके पर काम कर रहे हैं। नाममात्र वेतन पर कोरोना की विषम परिस्थितियों में भी ड्यूटी जारी रखी।

पंजाब सरकार ने कई बार मुलाजिमों को पक्का करने का वादा किया था। यदि सरकार अब भी नहीं चेती तो 21 अगस्त से सरकार के खिलाफ मोर्चा आरंभ कर दिया जाएगा। इस मौके पर कुलदीप सिंह बुढेवाल, हाकम सिंह, भूपिंदर सिंह कुतबेवाल, सतनाम सिंह, प्रद्युमन सिंह, जसप्रीत सिंह जटाना, मनप्रीत सिंह मौजूद रहे।

विभाग के उच्चाधिकारियों को मांगपत्र भेजा

इस दौरान संगठन ने निगरान इंजीनियर के माध्यम से विभाग के उच्चाधिकारियों को मांगपत्र भेजकर मांग की कि वर्करों को विभाग में लेने के लिए हेड ऑफिस पटियाला के मुख्य इंजीनियर पंजाब ने प्रपोजल तैयार कर विभाग के एचओडी के पास भेजी थी। इसे तुरंत लागू किया जाए।

हर वर्कर का 50 लाख रुपये का बीमा किया जाए

इसके अलावा हर वर्कर का 50 लाख रुपये का बीमा किया जाए, वर्कर की मौत होने पर एक करोड़ रुपये व पारिवारिक सदस्य को नौकरी दी जाए, श्रम कानून के तहत समुची सुविधाएं लागू की जाए, पेंडू जल घरों का पंचायतीकरण/निजीकरण की नीति रद की जाए, जल सप्लाई स्कीमें सरकार खुद चलाकर लोगों के पीने वाले पानी की सुविधा का प्रबंध करें।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!