फरीदकोट, [प्रदीप कुमार सिंह]। Tokyo Olympics 2020: टाेक्याे ओलिंपिक में वीरवार सुबह खेल प्रेमियों के लिए खुशी की खबर आई। रियो में खेले गए 31वें ओलंपिक की चैंपियन रही अर्जेंटीना को भारतीय टीम की तरफ से मात देने के बाद पंजाब में जश्न का माहाैल है। पंजाब के अमृतसर निवासी हरमनप्रीत सिंह व जालंधर के वरुण कुमार एक-एक गाेल कर जीत के हीराे बनकर उभरे। हालांकि फरीदकोट निवासी रुपिंदरपाल सिंह 41वें मिनट में मिले पहले पेनाल्टी काॅर्नर को गोल में तबदील करने से चूक गए।

रुपिंदर पाल सिंह ने अब तक हुए चार मैचो में न्यूजीलैंड व स्पेन के विरुद्ध एक-एक गोल यानी कुल दो गोल किए है। इसके अलावा अर्जेंटीना को हराने में वीरवार को अहम रोल एक-एक गोल मारकर वरुण कुमार, विवेक सागर प्रसाद व अमृतसर के हरमनप्रीत सिंह ने अदा किया। गाैरतलब है कि भारतीय टीम ने अर्जेंटीना 3-1 से मात दी है। रुपिंदर पाल सिंह द्वारा कोई गोल नहीं कर पाने पर फरीदकोट के खेल प्रेमी थोड़े निराश जरूर हुए परंतु भारतीय टीम की बदौलत मिली जीत से खुश है।

यह भी पढ़ें-Tokyo Olympics 2020: पहले मुकाबले के लिए बुलंद हौसले से रिंग में उतरेगी बॉक्सर सिमरनजीत, लुधियाना में गांव वाले कर रहे अरदास

भारतीय टीम बेहतर प्रदर्शन कर रहीः बलजिंदर सिंह

हाकी कोच व जिला खेल अधिकारी बलजिंदर सिंह ने कहा कि भारतीय टीम अनुभव व युवा जोश के साथ बेहतर खेल का प्रदर्शन कर रही है, रुपिंदर पाल सिंह ने अपने चौथे मैच में भले ही कोई गोल नहीं कर पाए परंतु उन्होंने बेहतर खेल का प्रदर्शन किया है, और भारत के आने वाले मैचों में वह भारतीय टीम के साथ और अच्छा खेल का प्रदर्शन करेगा, जिससे भारतीय टीम को जीत हासिल होगी।

यह भी पढ़ें-Tokyo Olympic 2020 Day 7 Live: पुरुष हॉकी टीम क्वार्टरफाइनल में, 3-1 से अर्जंटीना को हराया

30 जुलाई को सिमरनजीत का मुकाबला

टोक्यो ओलिंपिक 2020 में भारतीय महिला मुक्केबाजों को सफलता मिलती देख गांव चक्र के लोग बेहद उत्साहित हैं। अब उन्हें पूरी उम्मीद है कि 30 जुलाई को उनके गांव की बेटी सिमरनजीत कौर अपने पहले ओलिंपिक मुकाबले में जरूर जीत हासिल करेगी। मुक्केबाज सिमरनजीत कौर बाठ की मां राजपाल कौर का कहना है कि पहले मुकाबले में बेटी बुलंद हौसले के साथ उतरेगी। सिमरनजीत 60 किलोग्राम भार वर्ग में 16 मुक्केबाजों में शामिल हो चुकी हैं।

 

Edited By: Vipin Kumar