जासं, लुधियाना : पीआरटीसी व पनबस के कांट्रैक्ट मुलाजिम फिर से संघर्ष शुरू कर रहे हैं। यूनियन के पदाधिकारी शमशेर सिंह का कहना है कि शुक्रवार को सुबह दस से बारह बजे तक वह हड़ताल करेंगे। इस दौरान बसें नहीं चलने दी जाएंगी। उनका कहना है कि मुख्यमंत्री बदल जाने से उनकी मांगें भी पेंडिंग हो गई हैं। नए मुख्यमंत्री उनकी मांगें जल्द मान लें तो संघर्ष समाप्त हो जाएगा। अगर ऐसा नहीं हुआ तो यूनियन 30 सितंबर से अनिश्चितकालीन बस हड़ताल शुरू करेंगे। इस मौके पर त्रिलोचन सिंह, अशोक कुमार, बलविदर सिंह बिल्ला, चमकौर सिंह, सोनू कुमार और मनमोहन भी उपस्थित थे।

सुरक्षा : शहर के आठ चौराहों पर रहेगी पीसीआर

नवनियुक्त पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर की ओर से बुधवार को जारी किए निर्देशों पर वीरवार सुबह से अमल शुरू हो गया। शहर के मुख्य आठ चौराहों पर पीसीआर की गाड़ियां तैनात की गई हैं। एसीपी ट्रैफिक वरुणजीत सिंह का कहना है कि चौराहों पर अक्सर ट्रैफिक पुलिस का फोकस ट्रैफिक नियंत्रण पर रहता है। ऐसे में कई संदिग्ध वहां से निकल जाते हैं। बहुत से लोग ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन कर भाग जाते हैं। ऐसे में किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना के होने का डर बना रहता है। अगर कोई संदिग्ध या ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाला पीसीआर टीम की नजर में आता है तो उसे तुरंत काबू किया जाएगा। जो उनकी पकड़ में नहीं आता है, उसके बारे में अगले नाके और पुलिस स्टेशन को उसके बारे में सूचना दी जाएगी। ऐसा इसलिए भी किया जा रहा है ताकि शहर में झपटमारी की वारदात पर लगाम लगाई जा सके।

Edited By: Jagran