पटियाला, जेएनएन। सदर राजपुरा थाना इलाके से पुलिस ने रविवार काे जाली करंसी तैयार करने के अवैध धंधे का पर्दाफाश करते हुए तीन लाेगाें को गिरफ्तार किया है। आरोपितों की पहचान गुरप्रीत सिंह, गुरमीत सिंह निवासी गांव भुट्टो थाना डेहलों जिला लुधियाना व परमजोत सिंह निवासी गांव सीलो खुर्द थाना डेहलों लुधियाना के रूप में हुई है।

आराेपिताें को एसआइ निरवैर सिंह ने पुलिस पार्टी के साथ उपलहेड़ी राजपुरा स्थित जश्न होटल के नजदीक स्विफ्ट कार में जाते समय रोका था। पुलिस ने तलाशी के दौरान कार से पांच-पांच सौ के 190 नोट यानी 95,000 रुपये बरामद किए। यह सभी नोट नकली थी। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो आरोपितों ने बताया कि यह लोग यूपी से जाली करंसी लाने के बाद पंजाब बेचते थे।

यह भी पढ़ें-Ludhiana ASI Murder Case: भरत का बिजनेस पार्टनर हरियाणा से गिरफ्तार, गैंगस्टर जयपाल व जस्सी को कोलकाता में दिलाया था फ्लैट

26 मई काे भी पकड़ा गया था गिराेह

गाैरतलब है कि थाना सदर पटियाला इलाके से सीआइए स्टाफ ने 26 मई काे भी जाली करंसी तैयार करने वाले चार सदस्यीय गिरोह को गिरफ्तार किया था। आरोपितों में एक महिला भी शामिल थी। पकड़े गए आरोपितों की पहचान जसवीर सिंह उर्फ जस्सी निवासी हीरपुर बस्ती भवानीगढ़ जिला संगरूर, हरविंदर सिंह उर्फ पिंटू निवासी गाव रोशनवाला भवानीगढ़ जिला संगरूर, रवि उर्फ रफी निवासी गाव सरोंद थाना सदर अहमदगढ़ जिला संगरूर और प्रियाजीत कौर उर्फ लवली निवासी एसएसटी नगर पटियाला के रूप में हुई थी। एसएसपी डाॅ. संदीप कुमार गर्ग ने बताया कि एसपीडी हरमीत सिंह हुंदल की अध्यक्षता में सीआइए स्टाफ ने इन्हें गिरफ्तार किया था। आरोपितों से 1,99000 की जाली करंसी, एक मोबाइल फोन, एक प्रिंटर, नोटों की कटिंग करने वाले दो ब्लेड, एक सेलोटेप, एक ज्योमेट्री बाक्स, दो स्केल और जाली करंसी तैयार करने वाले खाली पेपर बरामद किए थे। इस गिरोह का सरगना जसवीर सिंह उर्फ जस्सी है।

Edited By: Vipin Kumar