जागरण संवाददाता, लुधियाना : सीएमसी चौक में हुई गैंगवार में युवक पर गोलियां चलाने वाले तीन आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उनके कब्जे से 32 बोर की देसी पिस्तौल तथा दो कारतूस बरामद किए गए। पुलिस अधिकारी उनसे पूछताछ में जुटे हुए हैं। तीनों को वीरवार अदालत में पेश किया जाएगा।

पुलिस कमिश्नर डाक्टर कौस्तुभ शर्मा ने बताया कि आरोपितों की पहचान हरि करतार कालोनी निवासी करण कालिया, धर्मपुरा की गली नंबर पांच निवासी कुनाल शर्मा उर्फ अभय तथा समीर मलिक के रूप में हुई। वारदात के बाद से थाना डिवीजन नंबर तीन, सीआइए-1, सीआईए-2, साइबर सेल, टेक्नीकल सेल तथा नारकोटिक सेल की टीमें बदमाशों की तलाश में जुटी हुई थीं। बुधवार सुबह गुप्त सूचना के आधार पर जालंधर बाइपास स्थित दाना मंडी में दबिश देकर पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया।

थाना डिवीजन नंबर तीन पुलिस ने 26 जून को घाटी मोहल्ला निवासी क्रांती की शिकायत पर विशु कैंथ, कमल, कुनाल शर्मा उर्फ अभय, दीक्षित टंडन, निक ओबराय, बिल्ला बड्डा, करण शर्मा, रमन राजपूत, नीरज राजपूत, शिवम मोटा तथा रिश्व वेनीपाल के खिलाफ हत्या प्रयास, आ‌र्म्स एक्ट व अन्य आपराधिक धाराओं के तहत केस दर्ज किया था। अपने बयान में उसने बताया कि 25 जून की रात 11 बजे आरोपितों ने उसके बेटे कार्तिक बग्गन को सीएमसी चौक के बेंजिमन रोड पर रोक लिया। वो लोग वीडियो काल से सेंट्रल जेल में बंद शिवम मोटा और रिश्व बेनीपाल से बात कर रहे थे। उधर से बात करते हुए शिवम मोटा और रिश्व बेनीपाल ने उनसे कहा कि आज कार्तिक को जान से मार डालो। इस पर करण कालिया ने अपनी जेब से पिस्तौल निकाल कर कार्तिक की और दो सीधे फायर किए। उसे गंभीर हालत में सीएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया। रंजिश की वजह यह है कि आरोपितों ने कुछ समय पहले लड़ाई झगड़ा करके कारों की तोड़ फोड़ की थी, जिसकी कार्तिक ने वीडियो रिकार्डिंग की थी। इसके अलावा करण कालिया के साथ हुई मारपीट की भी एक वीडियो कार्तिक के पास थी।

थाना प्रभारी सुखदेव सिंह ने कहा कि वारदात में इस्तेमाल किया गया पिस्तौल वीशु कैंथ लेकर आया था। उसके पकड़े जाने पर पता चलेगा कि वो पिस्तौल कहां से लाया था। सेंट्रल जेल में बंद शुभम मोटा को प्रोडक्शन वारंट पर लाने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। उसे शनिवार तक रिमांड पर लिया जाएगा। पकड़े गए आरोपितों में से कुनाल शर्मा उर्फ अभय के खिलाफ पहले से थाना डिवीजन नंबर एक में दुष्कर्म व मारपीट के तीन केस दर्ज हैं।

Edited By: Jagran