लुधियाना, जेएनएन। Ludhiana Covid/Coronavirus Cases Update: जिले में कोरोना महामारी को लेकर अब भी लोग लापरवाही दिखा रहे हैं। सुबह सुबह सड़कों पर लोगों की बेकाबू भीड़ नजर आ रही है। सरकार और स्वास्थ्य विशेषज्ञों के बार बार चेताने के बावजूद भी शहर के लोग न तो मास्क पहनने के प्रति गंभीरता दिखा रहे हैं और न ही शारीरिक दूरी को लेकर। ये आलम तब है, जब शहर में कोरोना चरम पर है। अस्पताल युवा संक्रमितों से लेकर बुजुर्ग संक्रमितों से भरे पड़े हैं। गंभीर संक्रमितों को बेड नहीं मिल रहे हैं।

हमारी लापरवाही की वजह से जिले में काेरोना संक्रमण किस कदर बेकाबू हो चुका है, उसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इस साल 24 मार्च से लेकर 15 अप्रैल के बीच 52 दिनों में ही 43112 लोगों को कोरोना ने अपनी चपेट में ले लिया है, वहीं 609 संक्रमितों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। इस साल 24 मार्च से 31 मार्च तक कोरोना की चपेट में 2800 लोग आए, जबकि अप्रैल में 19800 लोग पाजिटिव मिले, वहीं मई महीने में 20287 लोग पाॅजिटिव आ चुके हैं।

दूसरी तरफ पिछले साल 2020 में 24 मार्च से लेकर 23 मार्च 2021 तक एक साल में जिले के इलाकों में रहने वाले 31741 लोग कोरोना संक्रमित हुए थे और 1091 लोगों की जान गई थी। सेहत विभाग के आंकड़ों की मानें तो पिछले साल से लेकर अब तक जिले के रहने वाले कुल 74853 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 1700 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। विभागीय आंकड़ों से ही स्पष्ट हो रहा है कि डेढ़ महीने के भीतर कोरोना महामारी ने अपना भयावह रूप दिखाया है।

शनिवार को 1132 लोग पाॅजिटिव, 18 की मौत

उधर शनिवार को भी जिले के रहने वाले 1132 लोग पाॅजिटिव आए जबकि 18 संक्रमितों की मौत हो गई। कोरोना से दम तोड़ने वालों में 14 संक्रमित 50 से 75 साल की उम्र के थे, जबकि चार संक्रमित 30 से 45 साल की उम्र के थे। दूसरी तरफ 53 मरीज वेंटिलेटर पर है। वहीं जिले में एक्टिव केसों का आंकड़ा 12832 पहुंच गया है। वहीं दूसरे जिलों के रहने वाले 123 लोग पाजिटिव मिले, जबकि सात मरीजों की मौत हो गई।