जासं, लुधियाना। नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म मामले में पकड़े गए मुख्य आरोपित को बचाने के लिए किन्नरों ने पुलिस चौकी पर पथराव किया और फिर अंदर घुसकर हंगामा कर दिया। उनका आरोप था कि पुलिस की तरफ से गिरफ्तार किया गया उनका ड्राइवर निर्दोष है। इतने पर भी जब उन्हें तसल्ली नहीं हुई तो मंगलवार उन लोगों ने पुलिस चौकी का घेराव कर प्रदर्शन किया। दर्जनों की संख्या में पहुंचे किन्नरों ने चौकी पर पथराव कर पुलिस कर्मचारियों के साथ हाथापाई की। इसमें चौकी इंचार्ज समेत दो पुलिस कर्मचारी घायल हो गए। मौके पर पहुंची दो थानों की पुलिस ने हलके बल का प्रयोग कर उन्हें खदेड़ दिया। इसके बाद मामला शांत हुआ।

दरअसल, सोमवार रात पुलिस ने गुप्त सूचना पर इस दुष्कर्म मामले में आरोपित ड्राइवर हरमन को गिरफ्तार कर लिया। उसकी गिरफ्तारी का पता चलते ही ढंडारी चौकी में जमा हुए किन्नरों ने हंगामा शुरू कर दिया। सोमवार देर रात उन्हें समझा-बुझाकर वापस भेज दिया गया। मगर मंगलवार सुबह 11 बजे वे फिर ढंडारी चौकी के बाहर जमा हो गए। उन्होंने पुलिस के खिलाप नारेबाजी करते हुए पत्थरबाजी शुरू कर दी।

मामले का पता चलते ही थाना फोकल प्वाइंट प्रभारी मोहम्मद जमील, थाना जमालपुर प्रभारी हरजिंदर सिंह भारी पुलिस बल के साथ वहां पहुंचे। पहले पुलिस अधिकारियों ने किन्नरों को समझाने का प्रयास किया। मगर उनकी बात मानने की बजाए किन्नरों ने पुलिस पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। इसमें चौकी इंचार्ज रणधीर ¨सह तथा संतरी जरनैल ¨सह घायल हो गए। मामला उलझता देख पुलिस ने बल प्रयोग कर किन्नरों को वहां से खदेड़ा। मुख्य आरोपित ड्राइवर को कोर्ट ने जेल भेजा वहीं मुख्य आरोपित ढंडारी खुर्द निवासी ड्राइवर हरमन को मंगलवार को अदालत में पेश किया गया। वहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। मामले में प्रेम नगर निवासी दीप और ढंडारी की दशमेश मार्केट निवासी सूरज को पहले ही जेल भेजा जा चुका है।

यह है मामला

दरअसल, थाना फोकल प्वाइंट पुलिस ने एक नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में तीन युवकों हरमन, दीप, सूरज पर दुष्कर्म व पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। ढंडारी की दशमेश कॉलोनी निवासी शोभा ने इस कृत्य में उन युवकों का साथ दिया। इसलिए उसे भी नामजद किया गया। पुलिस ने तब दो आरोपितों दीप व सूरज को गिरफ्तार कर लिया जबकि हरमन व शोभा फरार हो गए। सोमवार रात पुलिस ने हरमन को गिरफ्तार कर लिया। वह ¨रपी महंत (किन्नर) का ड्राइवर है।

25 किन्नरों के खिलाफ मामला दर्ज

थाना फोकल प्वाइंट प्रभारी मोहम्मद जमील ने कहा कि मामले में चौकी इंचार्ल रणधीर सिंह के बयान पर ¨रपी, कंचन, सपना, सिमरन समेत करीब 25 किन्नरों के खिलाफ केस दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है। मामलें में वांछित महिला की तलाश में छापामारी की जा रही है। जल्दी ही उसे भी काबू कर लिया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!