लुधियाना, जेएनएन। कोरोना को हराने वाले लोग अब लोगाें का हौसला बढ़ाने के लिए बताएंगे कि किस तरह उन्होंने इस वायरस का मुकाबला किया। एक जून से शुरू होने वाले पंजाब सरकार के अभियान मिशन फतह की जानकारी देते हुए डीसी प्रदीप अग्रवाल ने बताया कि इसका मकसद है। लोगाें का मनोबल बढ़ाना व बीमारी के प्रति जागरुक करना।

लोक संपर्क विभाग की देखरेख में चलने वाले इस मिशन के तहत कोरोना पीड़ित वह लोग जो अपनी पहचान बताने के लिए तैयार हो को लोगो के सामने लाया जाएगा वह बताएंगे कि इलाज के दौरान उनकी मनोस्थिति कैसी थी। कैसे उन्होंने विश्व स्तर पर फैल चुके इस वायरस का मुकाबला करते हुए इसे हराया। गीतों के जरिए लोगो को बीमारी के प्रति जागरुक किया जाएगा।

होर्डिंग व प्रचार के जरिये कोरोना से कैसे बचाव किया जाए। दिनचर्या में किन किन नियमों का पालन करना है जैसी महत्वपूर्ण जानकारियों से लोगो को अवगत करवाया जाएगा। एक से 30 जून तक चलने वाले इस अभियान की तैयारियों संबधी मीटिंग के दौरान डिप्टी कमिश्नर प्रदीप अग्रवाल ने प्रशासनिक अधिकारियों को दिशा निर्देश भी जारी किए।

 पिछले दिनाें काेराेना से जंग जीतने वाले अली हसन ने कहा कि वह अपने भाईचारे से यही अपील करेंगे कि अगर स्वास्थ्य कर्मी उन्हें जांच के लिए घर लेने आ रहे हैं, तो उनका सहयोग करें। वह हमारे और परिवार के जीवन को सुरक्षित करने आ रहे हैं। उनके साथ बदसुलूकी करना या हाथापाई करना उचित नहीं है। अगर किसी में कोरेाना वायरस के संक्रमण के लक्षण दिखे तो खुद अस्पताल जाकर अपनी जांच करवाएं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Vipin Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!