जागरण संवाददाता, लुधियाना। Bharat Bhushan Ashu: लुधियाना पश्चिमी से विधायक व कैप्टन सरकार में फूड एवं सिविल सप्लाई मंत्री रहे भारत भूषण आशु का नाम अचानक डिप्टी सीएम के तौर पर चर्चा में आया तो उनके समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। आशु समर्थकों ने इंटरनेट मीडिया पर बकायदा उन्हें डिप्टी सीएम करार दिया और उन्हें बधाइयां देनी शुरू कर दी।

यही नहीं शहर के अन्य फेसबुक व वाट्सएप ग्रुपों में भी आशु को डिप्टी सीएम बनाए जाने पर बधाइयों का दौर शुरू हो गया। यही नहीं अब ताे आशु के घर में उसके समर्थक भी जुटने शुरू हाे गए हैं। गाैरतलब है कि भारत भूषण आशु कार्यवाहक मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के करीबी रहे हैं। एक दिन पहले ही अमरिंदर सिंह ने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया था।

यह भी पढ़ें-Punjab Congress Crisis: लुधियाना से कौन बनेगा मंत्री? आशु को फिर मिलेगी कुर्सी या दिग्गज पर लगेगा दांव

 

1997 में बने कौंसलर

आशु के डिप्टी सीएम बनने से पहले ही समर्थक ढोल बजाकर जश्न बनाते हुए। फोटो हरविंदर हैप्पी

भारत भूषण आशु का जन्म 20 मार्च 1971 काे हुआ था। पहली बार वह 1997 में कौंसलर बने। तीन बार पार्षद रहे। 2012 तक नगर निगम में बतौर पार्षद रहे। 2012 में कांग्रेस ने उन्हें लुधियाना पश्चिमी से टिकट दी और विधायक बने। कांग्रेस विपक्ष में थी तो पार्टी उन्हें कांग्रेस विधायक दल का उप नेता बनाया।

भारत भूषण आशु की पत्नी ममता आशु घर की ड्योढ़ी पर बैठकर समर्थकों से बात करती हुई। (जागरण)

2017 में फिर से पार्टी ने लुधियाना पश्चिमी से उन्हें टिकट दी और इस बार भी वह बड़े अंतर से जीते। 2017 में कैप्टन सरकार में उन्हें फूड एवं सिविल सप्लाई मंत्री की अहम जिम्मेदारी दी गई। पंजाब की राजनीति में आशु का कद बहुत बड़ा है। वह अपनी कार्यशैली काे लेकर भी अकसर चर्चा में रहते हैं।

 

यह भी पढ़ें-पंजाब कांग्रेस में CM पद के लिए घमासान के बीच सांसद मनीष तिवारी ने Tweet कर लिखा -This was the Congress!

Edited By: Vipin Kumar