आनलाइन डेस्क, अमृतसर। Sunil Jakhar left congress पंजाब कांग्रेस में मचे घमासान में एक बार फिर पूर्व अध्यक्ष नवजाेत सिंह सिद्धू की एंट्री हाे गई है। सिद्धू ने शनिवार काे ट्वीट कर पार्टी छाेड़ने वाले सुनील जाखड़ की जमकर तारीफ की। सिद्धू का कहना है कि जाखड़ बेशकीमती नेता है। पार्टी काे उन्हें नहीं गंवाना चाहिए। काेई भी मतभेद हाे उसे बैठकर सुलझाना चाहिए। जाखड़ का परिवार पिछले 50 साल से राजनीति में है। पिता बलराम जाखड़ के बाद अब उनके विधायक भतीजे संदीप जाखड़ के रूप में तीसरी पीढ़ी कांग्रेस में है।

जाखड़ राहुल गांधी के करीबी रहे हैं। सिद्धू की यह बात इसलिए अहम हैं क्योंकि उन पर भी अनुशासनात्मक कार्रवाई की तलवार लटक रही है। नवजाेत सिद्धू के खिलाफ पंजाब प्रधान राजा वड़िंग की सिफारिश पर अनुशासन समिति के पास मामला पहुंच चुका है। इस मामले में सिद्धू पर भी कार्रवाई होनी तय है। कांग्रेस छोड़ने से पहले भी जाखड़ ने सवाल उठाया था कि नवजोत सिद्धू को किस बात का नोटिस दिया गया।

कम नहीं हाे रही पार्टी में कलह

गाैरतलब है कि कांग्रेस पार्टी में गुटबाजी कम हाेने का नाम नहीं ले रही है। पंजाब विधानसभा चुनाव में पार्टी 18 सीटाें पर सिमट गई थी। सिद्धू काे अध्यक्ष पद से हटाने के बाद भी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। राजा वड़िंग काे नया प्रधान बनाने पर विवाद थमने की आशा थी लेकिन यह नहीं हाे पा रहा है। अब जाखड़ के पार्टी छाेड़ने के बाद कलह और बढ़ सकती है।

जाखड़ से कर चुके हैं मुलाकात

नवजाेत सिद्धू कुछ दिन पहले सुनील जाखड़ से मुलाकात कर चुके हैं। उस समय जाखड़ को नोटिस भी आ चुका था। दोनों के बीच क्या बातचीत हुई, इसको लेकर कोई ब्याेरा नहीं दिया गया। हालांकि बताया जा रहा है कि दाैनाें ने समर्थकों के साथ कोई फ्यूचर प्लानिंग की है।

यह भी पढ़ें-सुनील जाखड़ ने कांग्रेस को बोला गुड बाय, कहा- खटिया पर है कांग्रेस, नेतृत्‍व व सोनिया गांधी पर उठाए सवाल

Edited By: Vipin Kumar