जासं, लुधियाना : महानगर में हेरोइन की तस्करी करने वाले दो तस्करों को स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने गिरफ्तार किया है। वे दिल्ली में नाइजीरियन तस्करों को नकली-असली नोट देकर उनसे हेरोइन खरीदकर लाते थे और फिर पूड़ियां बनाकर लोगों को बेचते थे। पुलिस को आरोपितों की पहचान गांव जसपाल बांगड़ निवासी सतपाल सिंह उर्फ सत्ता और मोहल्ला गगन नगर निवासी शमशेर सिंह उर्फ शम्मी के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपितों के कब्जे से एक किलो हेरोइन बरामद की। एसटीएफ पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर पूछताछ करनी शुरु कर दी है।

एसटीएफ एआइजी सनेहदीप शर्मा और इंचार्ज हरबंस सिंह के मुताबिक आरोपित सतपाल सिंह सत्ता पिछले दस साल से और आरोपित शम्मी पिछले दो साल से हेरोइन की तस्करी कर रहा है। आरोपित सत्ता ड्राइवर है और शम्मी एक फैक्ट्री में काम करता है। दोनों ही आरोपित हेरोइन का नशा करने के आदि हैं। दोनों आरोपित ऑटो में सवार होकर हेरोइन की सप्लाई देने जा रहे थे। चेकिग के दौरान दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने कुछ दिन पहले रविदर सिंह को गिरफ्तार किया था और उसके कब्जे से हेरोइन और आइस ड्रग बरामद हुई था। इस मामले में भी सत्ता के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था। गिरफ्तार दोनों आरोपितों ने पूछताछ के दौरान बताया कि मुल्लांपुर दाखा में हैरी और गैरी नाम के दो युवक रहते हैं। वह पहले उनको असली नोट देकर उसके बदले तीन गुणा जाली नोट लेते हैं। फिर दिल्ली जाकर वहां नाइजीरियन को असली और जाली नोट मिक्स करके देते थे और उसके बदले हेरोइन खरीदते थे। फिर वह हेरोइन शहर में सप्लाई करते थे। पुलिस के मुताबिक आरोपित शम्मी के खिलाफ इरादत्न हत्या का भी मामला दर्ज है। पुलिस दोनों आरोपितों से पूछताछ करने में जुटी हुई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!