जागरण संवाददाता, पटियाला, नाभा। Drugs Problem in Punjab: थाना कोतवाली नाभा के अंतगर्त आते मैक्सिमम सिक्योरिटी जेल की जेल ब्रेक घटना के बाद भी इसमें सेंधमारी बंद नहीं हो पाई है। करीब पांच साल पहले हुई जेल ब्रेक की घटना के बाद यहां पर सुरक्षा इंतजाम बढ़ा दिए गए थे। बावजूद इसके 15 अक्टूबर की रात को अज्ञात लोगों ने जेल के बाहरी हिस्से से अंदर छह पैकेट फेंक दिए।

यह पैकेट जेल के सहायक सुपिरटेंडेंट करनैल सिंह ने गश्त के दौरान रात के 2 बजे टावर नंबर तीन केे पास बरामद किए हैं। बरामद पैकेट खोलने पर इसमें से जर्दे के 48 पैकेट, कूल लिप के आठ पैकेट, बीड़ी के 25 बंडल, गांजे की 15 पुड़िया, सिगरेट के दो डिब्बे, तीन चार्जर, तीन कीपेड फोन जिओ कंपनी के और दो स्मार्ट फोन बरामद हुए हैं। बरामदगी के बाद जेल अधिकारियों ने अज्ञात कैदी व हवालाती के खिलाफ केस दर्ज करवा दिया है।

यह भी पढ़ें-आप विधायक नरेश यादव बोले- कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कुछ नहीं किया, इसीलिए सीएम पद से हटाए गए

संतरी ने फोन कर दी थी सूचना

मामले के अनुसार टावर पर तीन पर तैनात संतरी ने जेल के बाहर से एक के बाद एक छह पैकेट गिरते हुए देखा, जिसके बाद उसने कंट्रोल रूम को सूचित कर दिया। सूचना मिलते ही सहायक सुपरिटेंडेंट करनैल सिंह मुलाजिमों की टीम लेकर तुरंत घनास्थल पर पहुंचे, जहां पर अंधेरे में सर्च अभियान चलाते हुए इनसभी पैकेट को बरामद कर लिए। फिलहाल पैकेट फेंकने वाले की पहचान के लिए दीवार के बाहरी हिस्से के इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों की चैकिंग की जा रही है। गाैरतलब है कि पंजाब की कई जेलाें में नशे की तस्करी हाे रही है। नशे के मामले लगातार बढ़ने से युवा पीढ़ी का भविष्य अंधकारमय हाे रहा है।

यह भी पढ़ें-Misdeed in Ludhiana: माछीवाड़ा में किशोर समेत 3 युवकाें ने नशीला पदार्थ पिलाकर युवती से किया सामूहिक दुष्कर्म

Edited By: Vipin Kumar