जागरण संवाददाता, लुधियाना: आतंकी बलवंत सिंह राजोआणा की सजा माफी के खिलाफ शिवसेना हिदुस्तान प्रदेश स्तरीय आंदोलन शुरू करने जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के नाम के मांगपत्र को एडीसी इकबाल सिंह संधू को सौंपते हुए शिवसेना के प्रदेश प्रमुख कृष्ण शर्मा व प्रवक्ता चंद्रकांत चड्डा ने यह जानकारी दी। केंद्र सरकार पर रोष जताते हुए पदाधिकारियों ने कहा कि आतंकवाद पर जीरो टॉलरेंस की बात करने वाली मोदी सरकार उन आंतकियों को छोड़ रही है, जो खुद मानते है कि वह पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह हत्याकांड में शामिल थे। यह ही नहीं बल्कि यह भी दावा करते है कि अगर फिर मौका मिला तो वह ऐसा कृत करने से गुरेज नहीं करेंगे। ऐसे व्यक्ति की सजा माफी समझ से परे है।

शिवसेना नेताओं ने कहा काली सूची से नाम हटाकर विदेशों में बैठे आंतकियों को देश में घुसने का फिर से मौका दिया जा रहा है। यह मात्र वोट के लिए किया जा रहा है। आंतकवाद का संताप झेल चुका पंजाब फिर से इस दलदल में न फंस जाए इसके लिए शिवसैनिक कोई भी कुर्बानी देने को तैयार है। शिवसेना की मांग है कि आंतकी बलवंत सिंह राजोआणा की सजा माफी रद्द करके उसे फांसी पर लटकाया जाए। काली सूची बरकरार रखकर आंतकियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। ऐसा न होने की सूरत में शिवसेना प्रदेश स्तरीय आंदोलन छेड़ देगी। इस दौरान संजीव देम, मनोज टिकू, मनी शेरा, बौबी मित्तल, चन्द्र कालड़ा, दविदर भागरिया, नितिन घंड, पूजा नरूला, गौतम सूद, कुणाल सूद, गगन गग्गी, योगेश बांसल, राजेश गुप्ता, रोहित जिदल, लक्ष्मण यादव, चिटू गुप्ता, पीयूष जोशी, जतिदर कुमार, लविश कुमार, राजेश अरोड़ा मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!