जासं, लुधियाना : फ्रांस की सरकार और वहां की एक पत्रिका की ओर से लगातार इस्लाम धर्म को आतंकवाद से जोड़कर बदनाम करने की कोशिश की जाती है। इस गुस्ताखी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगी। यह बात जामा मस्जिद से शाही इमाम पंजाब मौलाना हबीब-उर्र-रहमान सानी लुधियानवी ने कही। फ्रांस के कट्टरपंथियों पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि वे विश्व भर में इस्लाम धर्म की लोकप्रियता से बौखलाए हुए हैं। इसी कारण वह ओछे हथकंडे अपनाकर इस धर्म को आतंकवाद से जोड़ना चाहते हैं। फ्रांस ने पहले भी ऐसी नापाक हरकतें की हैं। इसलिए उसे बाज आना चाहिए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस