जासं, खन्ना : शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) श्री दरबार साहिब की अंत¨रग कमेटी की मी¨टग मंगलवार को दोराहा के पास स्थित ऐतिहासिक गुरुद्वारा श्री देगसर साहिब कटाणा साहिब में हुई। एसजीपीसी के नवनियुक्त प्रधान गो¨बद ¨सह लौंगोवाल ने मी¨टग की अगुवाई की। इसके बाद वह मीडिया से मुखातिब हुए।

लौंगोवाल ने कहा कि जगदीश टाइटलर सिखों को सफाई न दे। उसका असली चेहरा सब जानते हैं। मामला कोर्ट में विचाराधीन है, जो कहना है वह अदालत में कहा जाए। सिख कौम टाइटलर को कभी माफ नहीं कर सकती। मी¨टग में जहां गुरुद्वारों के प्रबंधों को सुचारू बनाने को लेकर अहम फैसले लिए, वहीं साल 2019 श्री गुरु नानक देव जी को समर्पित करने के लिए उनका 550वां प्रकाश पर्व धूमधाम से मनाने का फैसला लिया गया। इसे लेकर केंद्र व राज्य स्तर पर कमेटियां बनाई जाएंगी।

उन्होंने कहा कि हरियाणा व पंजाब के लोगों को श्री हरिमंदिर साहिब के दर्शनों के लिए फ्री बस सुविधा देने पर मोहर लगाई गई। पिछले समय दौरान एसजीपीसी की विवादित भर्तियों व तरक्कियों की जांच के लिए सब कमेटी बनाकर 15 दिनों में रिपोर्ट भी मांगी गई है। इसके अलावा कई अन्य प्रस्ताव भी मी¨टग में पास किए गए। तख्त श्री केसगढ़ साहिब और तख्त श्री दमदमा साहिब में शिरोमणि कमेटी के उप दफ्तर तथा धर्म प्रचार केंद्र खोलने का फैसला भी लिया गया। धर्म प्रचार की लहर को प्रचंड करके एक लाख प्राणियों को नवंबर 2018 तक अमृतधारी बनने के लिए प्रेरित करने का लक्ष्य भी रखा गया है। एसजीपीसी धार्मिक गतिविधियों के लिए सोशल मीडिया ¨वग स्थापित किया जाएगा। जिसके लिए पारदर्शिता से तकनीकी व विशेष माहिरों की सिलेक्शन होगी। विवादित नियुक्तियों पर लौंगोवाल ने कहा कि इसके लिए सब कमेटी बनाई गई है, जो 15 दिनों में अपनी रिपोर्ट देगी। गुरुद्वारा साहिबों तथा शिक्षण संस्थाओं में स्टाफ की कमी दूर की जाएगी। हरियाणा व पंजाब के अलग-अलग इलाकों से श्री हर¨मदर साहिब श्री अमृतसर साहिब के दर्शनों के लिए फ्री बस सेवा शुरू की जाएगी, ताकि जिन्होंने साधनों की कमी के चलते अभी तक दर्शन नहीं किए हैं वह संगत दर्शन कर सकें। इसके लिए यदि बसें खरीदनी करनी पड़ी तो खरीदी जाएगी। सिख धर्म के प्रचार व प्रसार के लिए डाक्युमेंटरी फिल्में बनाई जाएंगी। बच्चों के सवाल-जवाब, गुरबाणी कंठ आदि मुकाबले कराए जाएंगे। इसके लिए सब कमेटी गठित की जाएगी। एसजीपीसी की तरफ से गुरुद्वारों के सुचारू प्रबंध, धर्म के प्रचार व प्रसार के लिए स्टाफ की कमी दूर होगी। एसजीपीसी मुलाजिमों की हाजिरी यकीनी बनाने के लिए बायोमैट्रिक हाजिरी तकनीक शुरू की जाएगी। हर तरह के खर्चों की प्रवानगी भी मुलाजिमों को दी जाएगी। श्री गुरु नानक देव साहिब का 550 वर्षीय प्रकाश पर्व खालसाई रिवायतों अनुसार विश्व भर में मनाया जाएगा। इस संबंध में श्री ननकाना साहिब पाकिस्तान और सुल्तानपुरी लोधी में धार्मिक समागम होंगे। लौंगोवाल ने कहा कि एसजीपीसी का मुख्य एजेंडा धर्म प्रचार लहर को प्रचंड करके गांव स्तर तक पहुंचाना है। हर हलके में गुरमति प्रचार के दो समागम होंगे। हर जगह अमृत प्रचार भी होगा। श्री फतेहगढ़ साहिब में साहिबजादों के शहीदी दिवस को समर्पित गुरबाणी दिवस हर साल 22 दिसंबर को मनाया जाएगा। जिसमें श्री जपुजी साहिब के पंक्ति रूप में पाठ किए जाएंगे। तख्त श्री केसगढ़ साहिब आनंदपुर साहिब और तख्त श्री दमदमा साहिब तलवंडी साबो (ब¨ठडा) में धर्म प्रचार केंद्र और एसजीपीसी के सब आफिस खोले जाएंगे। मी¨टग में भगत पूर्ण ¨सह ¨पगलवाड़ा संस्था को 15 लाख रुपए देने का फैसला किया गया। बच्चों के लिए एकेडमियां खोलने का प्रस्ताव पारित किया गया। केंद्रीय सिख अजायब घर में बाबा हजारा ¨सह, ज्ञानी बादल ¨सह प्रचारक, भाई गनी खान- भाई नवी खान, भाई हरी ¨सह शिरोमणि रागी समेत कई तस्वीरें लगाने का प्रस्ताव भी पास हुआ।

एसजीपीसी मुलाजिमों को सिख मर्यादा में रखने के लिए अहम फैसले लिए गए। उन्होंने कहा कि सेक्शन 85 व 87 के तहत ट्रस्टों व शिक्षण संस्थाओं में कार्यरत मुलाजिम अगर सिख रहित मर्यादा की उल्लंघन करता है तो सर्विस से मुअतल करने की बजाय सीधा बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा। इन्हें दोबारा सर्विस में नहीं लिया जाएगा। इस मौके पर वरिष्ठ उपाध्यक्ष रघुजीत ¨सह करनाल, जूनियर उपाध्यक्ष हरपाल ¨सह जल्ला, महासचिव गुरबचन ¨सह करमूवाला, अंत¨रग कमेटी सदस्य सज्जन ¨सह बज्जूमान, नवतेज ¨सह काउणी, एडवोकेट भगवंत ¨सह सियालका, लखबीर ¨सह अराइयांवाला, गुरप्रीत कौर कपूरथला, गुरतेज ¨सह ढंडे, हरदेव ¨सह रोगला, र¨वदर ¨सह चक मुकेरियां, एसजीपीसी के मुख्य सचिव डा. रूप ¨सह, सचिव मनजीत ¨सह मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!