जागरण संवाददाता, लुधियाना। दीपावली के मद्देनजर जिले के अस्पतालों में घायलों के इलाज के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। सेहत विभाग ने सभी अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया है।

सिविल अस्पताल में इमरजेंसी में अतिरिक्त बेड के इंतजाम किए गए हैं। गंभीर रूप से झुलसे मरीजों के लिए एक एंबुलेंस भी रिजर्व है। इसके अलावा पटाखों से घायल होने वाले मरीजों के इलाज के लिए मेडिसन विशेषज्ञ, सर्जन, आंखों के विशेषज्ञ, त्वचा रोग विशेषज्ञ व हड्डी रोग विशेषज्ञ की ड्यूटी लगाई गई है। स्वास्थ्य विभाग ने दो दिन पहले आदेश दे दिया है कि दीपावली की रात चिकित्सकों को 24 घंटे ऑन कॉल उपलब्ध रहना होगा। दूसरी तरफ शहर के निजी अस्पतालों ने भी अपने-अपने आगजनी में घायल मरीजों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। मरीज आपात स्थिति पर इन हेल्पलाइन नंबरों की मदद ले सकते हैं।

सभी अस्पताल अलर्ट पर

सिविल सर्जन डॉ. परविंदरपाल सिद्धू ने कहा कि दीपावली पर आपात स्थिति से निपटने के लिए जिले के सिविल अस्पताल, सीएचसी व पीएचसी में नियुक्त एसएमओ को अलर्ट किया गया है। उन्हें निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने अस्पतालों में बर्न व आई इंजरी से संबंधित मरीजों के इलाज के लिए इमरजेंसी में अलग से स्टाफ व दवाइयों की व्यवस्था करके रखें और विशेष परिस्थितियों में ही मरीजों को रेफर करें। एक सौ आठ एंबुलेंस को भी अलर्ट पर रखा गया है, ताकि गंभीर मरीजों को अस्पताल समय से पहुंचाया जा सके।

पंचम अस्पताल : हेल्पलाइन नंबर 87250-08725

जवद्दी पुल के समीप स्थित पंचम अस्पताल के प्रमुख व कार्डियोलॉजिस्ट डॉ.आरपी सिंह ने बताया कि उनके अस्पताल में भी दीपावली के मद्देनजर बर्न के मरीजों के इलाज के लिए स्पेशल टीम बनाई गई है। स्टाफ को अलर्ट किया गया है। बर्न के मरीजों के लिए हेल्पलाइन नंबर 87250-08725 भी दिया गया है।


डीएमसी में हेल्पलाइन नंबर 94646-91616 पर मिलाएं फोन
डीएमसी के प्लास्टिक सर्जरी विभाग के प्रमुख डॉ.संजीव उप्पल ने बताया कि दिवाली के दिन बड़ी संख्या में पटाखों और आग से जलने के कारण मरीज आते हैं। ज्यादातर लोगों के हाथ और मुंह बर्न होते हैं। डीएमसीएच में एक साथ पचास मरीजों के इलाज का इंतजाम किया गया है। आपातकाल में हेल्पलाइन नंबर 98155-55100 पर लोग फोन कर सकते हैं। 

फोर्टिस अस्पताल के इमरजेंसी नंबर की भी ले सकते हैं मदद
चंडीगढ़ रोड स्थित फोर्टिस अस्पताल लुधियाना के डायरेक्टर विवान गिल ने बताया कि दीपावली के दिन किसी भी तरह की आपात स्थिति से निपटने के लिए व्यापक व्यवस्था की गई है। विशेषज्ञों व पैरामेडिकल स्टाफ की टीम तैयार रखी गई है। मरीजों की मदद के लिए इमरजेंसी हेल्प लाइन नंबर 0161-5222222 भी जारी किया गया है।

आंखों में समस्या होने पर 98143-31433 डायल करें
भाई रणधीर सिंह नगर स्थित डॉ. रमेश सुपरस्पेशियलिटी आइ केयर एंड लेसिक सेंटर के डायरेक्टर डॉ. रमेश मंसूरा ने बताया कि दीपावली के दौरान अनार बम व आतिशबाजी के चलते आंखें प्रभावित होने का खतरा सबसे अधिक रहता है। आंखों में पटाखों के कण जाने के कारण जलन व एलर्जी के केस काफी आते हैं। इसी के मद्देनजर उनके द्वारा मरीजों की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर 98143-31433 जारी किया गया है। इन नंबरों पर कॉल करके मरीज आंखों से संबंधित समस्या होने पर संपर्क कर सकते हैं।

अरोड़ा न्यूरो सेंटर ने भी जारी किया हेल्पलाइन नंबर
अरोड़ा न्यूरो सेंटर के चीफ मेडिसन एंड क्रिटिकल केयर डॉ. गौरव सचदेवा ने बताया कि उनके यहां भी बर्न के मरीजों के इलाज के लिए सभी तैयारियां कर ली गई हैं। बर्न स्पेशलिस्ट की टीम बनाई गई है। मरीज उनके मोबाइल नंबर 98149-20696 या हेल्पलाइन नंबर 0161-4050000 पर कॉल कर सकते हैं।

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!