लुधियाना, जेएनएन। वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के सक्रिय होने से बुधवार को सूबे में मौसम का मिजाज बदल गया। तेज हवाओं के बीच बादलों और बूंदाबांदी की वजह से पंजाब के कई जिलों में अधिकतम तापमान पांच से 13 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। मौसम विभाग की मानें तो बुधवार को कई जिलों में बादल छाए रहेंगे। इस दौरान बूंदाबांदी भी हो सकती है। मंगलवार को लुधियाना, जालंधर समेत कई स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी दर्ज की गई थी। बुधवार को यहां बादल छाए हुए हैं। मंगलवार को बठिंडा में अधिकतम तापमान 23.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया, जो सामान्य से 13 डिग्री सेलिसयस कम रहा।

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि बठिंडा में पिछले पचास सालों में कभी भी 20 अप्रैल को दिन का तापमान इतना कम नहीं रिकार्ड किया गया। लुधियाना में अधिकतम तापमान 31.4 डिग्री रिकार्ड किया गया, जोकि सामान्य से चार डिग्री कम था। दूसरी तरफ खराब मौसम से किसानों की चिंता बढ़ गई है। मंडियों में लिफ्टिंग न होने से हजारों टन गेहूं खुले में पड़ा है। ऐसे में बारिश से भारी नुकसान हो सकता है।

यह भी पढ़ें - खौफनाक मर्डर से दहला पटियाला, जिला बार काउंसिल के पूर्व चेयरमैन की पत्नी की बेदर्दी से हत्या

यह भी पढ़ें - सैंपलिंग के तीन-चार दिन बाद भी नहीं मिल रही रिपोर्ट, लुधियाना में कोरोना कैरियर बनकर घूम रहे लोग