जागरण संवाददाता, लुधियाना। School Reopen in Ludhiana: पंजाब सरकार की ओर से सोमवार से स्कूल खोले जाने की घोषणा के बाद आखिर शहर के स्कूल चार माह के बाद खुल गए। हालांकि सरकारी स्कूलों ने प्री प्राइमरी से कक्षा 12वीं तक के सभी स्कूल खोल दिए हैं जबकि निजी स्कूल मंगलवार से स्कूल खोले जाने की बात कर रहे हैं। निजी स्कूल अभी प्री प्राइमरी कक्षा के बच्चों को नहीं बुला रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट किया है कि अभी कक्षा पहली से बच्चों को बुलाएंगे और इसमें भी अभिभावकों की स्वीकृति को देखा जाएगा। जैसे-जैसे हर कक्षा के लिए अभिभावकों की स्वीकृति मिलती जाएगी, वैसे ही बच्चों को बुलाएंगे।

बता दें कि सरकार की ओर से स्कूलों को स्पष्ट निर्देश हैं कि वह कोशिश -19 की हर गाइडलाइन का पालन करें। इससे पहले 26 जुलाई को कक्षा 10वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खोले गए थे, जिसमें सरकारी और निजी दोनों स्कूलों ने विद्यार्थियों को स्कूल बुलाना शुरू कर दिया था।

 

स्कूल आने पर हुआ वेलकम

शिमलापुरी के तेजा सिंह स्वतंत्र स्कूल ने पहले दिन कक्षा पहली से बच्चों को स्कूल बुलाया। स्कूल द्वार पर बच्चों का वेलकम किया। प्रिंसिपल हरजीत कौर ने कहा कि अभी नर्सरी के बच्चों को स्कूल नहीं बुला रहे हैं। छोटे बच्चों की अभी स्वीकृति मिलनी बाकी है। उम्मीद है कि एक सप्ताह के बाद वह बच्चे भी स्कूल आना शुरू कर देंगे। दूसरी तरह सरकारी स्कूलों में भी धीरे धीरे बच्चे स्कूल पहुंच रहे हैं।

स्कूल प्रबंधक इन बातों का रखें ध्यान

  • बच्चों को बार-बार मास्क पहने रखने के लिए और हाथों को सैनिटाइज करवाते रहें
  • पहले दिन बच्चों की स्थिति को भागते हुए ओरल एक्टिविटी में उन्हें शामिल करें
  • स्कूल के मुख्य स्थानों पर सैनिटाइजर का प्रबंध अवश्य करें
  • वॉशरूम या पानी के स्थानों पर पैर से इस्तेमाल होने वाली मशीनों का प्रयोग करें
  • एक कक्षा में में कम से कम 20 विद्यार्थियों को ही बताएं
  • एक बेंच पर एक ही विद्यार्थी बैठे इसका भी ध्यान रखें
  • स्कूल की एंट्री और एग्जिट गेट के लिए अलग-अलग गेट या डायरेक्शन बनाए रखें

 

यह भी पढ़ें-किसानाें की दाेटूक- किराये पर भी नहीं चलने देंगे Adani Logistics Park, मुख्य गेट के आगे ट्रैक्टर किए खड़े

 

Edited By: Vipin Kumar