जागरण संवाददाता, लुधियाना : कोलकाता से साहनेवाल तक बनने वाले फ्रेट कोरिडोर का निर्माण इस वर्ष दिसंबर तक पूरा हो जाएगा। हालांकि पहले रेल विभाग फ्रेट कोरिडोर को अमृतसर तक बनाना चाहता था लेकिन सुरक्षा के मद्देनजर अब कोरिडोर को साहनेवाल तक ही बनाने का निर्णय हो चुका है। कोलकाता से साहनेवाल तक बनने वाली इस रेल लाइन का काम 80 प्रतिशत तक पूरा हो चुका है। अन्य काम भी जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। रेल अधिकारी बताते हैं कि इसका निर्माण इस साल दिसंबर तक पूरा करने का लक्ष्य है।

--------------

फ्रेट कोरिडोर से उद्योग जगत को लाभ

फ्रेट कोरिडोर का वर्क पूरा हो जाने के बाद उद्योग जगत को सबसे ज्यादा लाभ मिलेगा। साहनेवाल से कोलकाता बंदरगाह पर माल भेजने के लिए आसान हो जाएगा। इसके साथ ही पंजाब से दूसरे शहरों को भेजने वाले सामान पहुंचाने में आसान हो जाएगा और व्यापारियों का माल समय से पहुंचेगा।

------------

रेल ट्रैक कम होने से माल भेजने में होती थी देरी

पंजाब से देश के अन्य शहरों में माल भेजने के लिए अधिक समय लग जाता था। मालगाड़ी रेलगाड़ी की लेन से जाती थी। मालगाड़ी जगह-जगह स्टेशन पर रोक दी जाती थी। अब स्पेशल ट्रैक बन जाने से माल गाड़ी बिना रोक-टोक चलेगी। इससे व्यापारियों का माल समय से पहुंच जाएगा। इसलिए अब व्यापारी भी रेल की इस योजना से खुश है।

युद्ध स्तर पर चल रहा है वर्क :सेक्शन इंजीनियर

फ्रेट कोरिडोर निर्माण को लेकर फिरोजपुर रेल मंडल के सेक्शन इंजीनियर सुनील कुमार का कहना है कि इस वर्ष इस योजना को पूरा कर लिया जाएगा। मंडल के ट्रैफिक इंस्पेक्टर आरके शर्मा का कहना है कि इस योजना पर विभाग का लगातार नजर है और कोरिडोर का निर्माण से उद्योग जगत को सबसे ज्यादा फायदा होगा।

Edited By: Jagran