जागरण संवाददाता, लुधियाना। पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी की ओर से माइनिंग साइट पर रेत की कीमत 5.50 रुपये प्रति फीट तय किए जाने के बावजूद पंजाब में विभिन्न जिलों में रेत 30 से लेकर 40 रुपये प्रति फीट कीमत पर मिल रही है। दैनिक जागरण की ओर से मुद्दा उठाए जाने के बाद सरकार के आदेशों पर शनिवार को लुधियाना में जिला प्रशासन ने रेत की रिटेल (परचून) कीमत तय कर दी है। अब जल्द ही अन्य जिलों में भी रिटेल कीमत तय हो जाने की उम्मीद है।

लुधियाना शहरी क्षेत्र में लोगों को अब 13.50 रुपये प्रति फीट और जिले के अन्य क्षेत्र में माइनिंग साइट की दूरी के हिसाब से रेत 12.50 रुपये से 15.50 रुपये प्रति फीट की दर से मिलेगी। अब तक लुधियाना शहर में ही रेत 35 से 40 रुपये प्रति फीट की दर से बिक रही थी। लुधियाना जिला प्रशासन ने रिटेल कीमत तय करके लोगों के लिए सस्ती रेत मिलने का रास्ता खोल दिया।

शनिवार को डीसी वरिंदर शर्मा ने रेत की रिटेल कीमत तय करके इसे सार्वजनिक कर दिया। उन्होंने स्पष्ट किया कि प्रशासन की ओर से तय की गई कीमत से ज्यादा दर पर रेत बेचने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। लोग तय दर से अधिक कीमत पर रेत बेचने वालों की शिकायत अपने क्षेत्र के एसडीएम कार्यालय या संबंधित थाने में कर सकेंगे। इसके अलावा माइनिंग पोर्टल पर भी शिकायत दर्ज करवाई जा सकेगी। कीमत तय करने से पूर्व डीसी वरिंदर शर्मा ने बचत भवन में जिले के रेत कारोबारियों और ट्रांसपोर्टरों के साथ बैठक कर माल भाड़े को लेकर चर्चा की।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री चन्नी ने राज्य में रेत की कीमत घटाने का दावा किया, परंतु रेत सस्ती नहीं हुई। दैनिक जागरण ने मुद्दा उठाया तो कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू सहित विपक्षी दलों ने भी महंगी रेत को लेकर सरकार पर सवाल दागे। दरअसल, सरकार ने माइनिंग साइट पर रेत की कीमत तय कर दी लेकिन रिटेल कीमत तय नहीं की। इस कारण लोग रेत के कारोबार से जुड़े लोगों की लूट का शिकार हो रहे थे। सूत्रों के अनुसार सरकार की ओर से जिला प्रशासन स्तर पर रेत की रिटेल कीमत तय करने के आदेश दिए तो शनिवार को लुधियाना में सबसे पहले रेत की रिटेल कीमत तय कर दी।