मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जेएनएन, लुधियाना। सूबे में सोमवार को सूर्यदेव ने अपना रौद्र रूप दिखाया। पंजाब के कई शहर दिन भर तंदूर की तरह तपे। सुबह दिन चढ़ते ही सूर्य देव ने ऐसी आग उगली कि दोपहर तक पंजाब के कई शहरों में अधिकतम तापमान 47 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया। गर्म हवाओं के थपेड़ों ने लोगों को बेचैन किए रखा। 

इंडिया मैट्रोलाजिकल डिपार्टमेंट चंडीगढ़ के अनुसार पंजाब में बठिंडा व फिरोजपुर सबसे गर्म रहे। बठिंडा व फिरोजपुर में अधिकतम तापमान 46.9 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 25.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इन दोनों शहरों में अधिकतम तापमान सामान्य से छह डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया। जबकि पटियाला में अधिकतम तापमान 45.8 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 26.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। पटियाला में अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री सेलिसयस अधिक दर्ज किया गया।

वहीं लुधियाना में अधिकतम तापमान 45.5 डिग्री सेलिसयस व न्यूनतम तापमान 26.9 डिग्री सेलिसयस रिकार्ड किया गया। यहां भी अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री सेलिसयस अधिक ही दर्ज किया गया। वहीं अमृतसर में अधिकतम तापमान 45.2 डिग्री सेलिसयस व न्यूनतम तापमान 26.4 डिग्री सेलिसयस रिकार्ड किया गया। अमृतसर में अधिकतम तापमान सामान्य से छह डिग्री सेलिसयस अधिक रिकार्ड किया गया। इसके अलावा जालंधर में अधिकतम तापमान 44.7 डिग्री सेलिसयस व न्यूनतम तापमान 23.5 डिग्री सेलिसयस रिकार्ड किया गया।  

आज से बदलेगा मौसम, बादल व बारिश के दस्तक देने की संभावना

इंडिया मैट्रोलाजिकल डिपार्टमेंट चंडीगढ़ के पूर्वानुमान के अनुसार 11 व 12 जून को पंजाब के कई जिलों में बादल छाएं रहने व बारिश की संभावना जताई गई है। विभाग का पूर्वानुमान है कि दो दिनों तक धूल भरी हवाएं चलने की संभावना है। जिसकी रफ्तार करीब 30 से 35 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है। हालांकि, अब देखना होगा कि विभाग का यह पूर्वानुमान सही साबित होता है या नहीं। क्योंकि इससे पहले भी पिछले सप्ताह मौसम विभाग ने बादल छाएं रहने व बारिश का पूर्वानुमान लगाया था।  

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sat Paul

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!