जागरण संवादददाता, लुधियाना/जालंधर। Punjab Weather Alert! करवाचौथ व्रत के दिन रविवार काे लुधियाना, जालंधर सहित कई जिलाें में जमकर बारिश हुई। देर रात करीब 12 बजे करीब 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ पहले आंधी आई। इस दौरान बादल गरज रहे थे और बिजली चमक रही थी। इसके बाद करीब एक बजे एकाएक बारिश ने दस्तक दी। तेज बारिश के बीच करीब चार बजे ओलावृष्टि भी शुरू हो गई, जो कि सुबह छह बजे तक जारी रही। आंधी, बारिश और ओलावृष्टि से मौसम काफी ठंडा हो गया है। सुबह आठ बजे तापमान 15 डिग्री सेल्सियस रहा। ठिठुरन का अहसास हो रहा था।

यह भी पढ़ें-Punjab Politics: पंजाब विधानसभा चुनाव की रणनीति, विपक्ष के दुष्प्रचार को मात देंगी भाजपा की टीम; जानें रणनीति

आंधी, बारिश और ओलावृष्टि से किसान परेशान

लोगों को सुबह गर्म कपड़े निकालने पड़ गए। दूसरी तरफ आंधी बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों की नींद उड़ा दी है। क्योंकि फसलों को काफी नुकसान होने की संभावना है। कृषि माहिरों के अनुसार बारिश से खेतों में पकाकर तैयार खड़ी धान, मक्की, कपास, गन्ना सहित सब्जियों की फसलों को काफी नुकसान हुआ होगा। फसलों के बिछ गई होंगी। जिसकी वजह से धान की कटाई में तो दिक्कत आएगी। वहीं कई जगह पर मंडियों में पड़ा धान भी भीग गया।

यह भी पढ़ें-अब राजा वडिंग ने भी साधा Aroosa Alam के बहाने कैप्टन पर निशाना, पूछा- क्या यह सुरक्षा के लिए खतरा नहीं

खुले में पड़ी धान भीगने से किसान मायूस

यही नहीं पंजाब में मंडियों में धान की फसल लेकर पहुंचे किसानों की खुले में पड़ी धान के भीगने से परेशानी बढ़ गई है। किसानाें के इससे भारी नुकसान हाेने की आशंका है। गाैरतलब है कि पंजाब में इस बार मानसून सीजन में भी जमकर बारिश हुई थी।

यह भी पढ़ें-करवाचौथ पर इस बार बन रहा विशेष शुभ योग, जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि व व्रत के नियमों के बारे में

Edited By: Vipin Kumar