फतेहगढ़ साहिब, जेएनएन। अमृतसर-नई दिल्ली रेल मार्ग पर सरहिंद के पास रेल हादसा हो गय। जम्‍मू तवी से आ रही पूजा एक्‍सप्रेस ट्रेन का इंजन हुक टूटने के कारण बोगियों से अलग हो गया। इससे एक युवक की मौत हो गई। ट्रेन बड़े हादसे का शिकार हो सकती थी, लेकिन इससे बाल-बाल बच गई और हजारों यात्रियों की जान बच गई। जानकारी के अनुसार जम्मू तवी से गाड़ी संख्या 12414 पूजा एक्सप्रेस जयपुर जा रही थी।

जम्मू तवी से जयपुर जा रही थी गाड़ी, ब्राह्मणमाजरा पुल के पास हादसा

ट्रेन लुधियाना से 11 बजकर 5 मिनट पर निकली। इसका अगला ठहराव अंबाला कैंट था। 12 बजे के करीब जब गाड़ी करीब 100 किलोमीटर प्रति घन्टा की रफ्तार से सरहिंद से निकल रही थी तो ब्राह्मणमाजरा पास इंजन की हुक टूट गई। इससे इंजन करीब तीन किलोमीटर आगे तक चला गया। इंजन के साथ पहली बोगी में खिड़की के पास खड़ा पठानकोट का 25 वर्षीय सतपाल सिंह नीचे गिर गया। उसके सिर में चोट लगने से उसकी मौत हो गई।

रेल हादसे की सूचना मिलते ही अंबाला कंट्रोल रूम पर अफरा तफरी मच गई। वहां से रेलवे अधिकारी मौके पर पहुंचे। इंजन और अलग हुई गाड़ी को सरहिंद रेलवे स्टेशन पर लाकर जोड़ा गया और अन्य खामियां भी चेक की गईं। करीब साढ़े तीन घँटे बाद ट्रेन को जहां से रवाना किया गया। ट्रेन अंबाला कैंट 4 बजकर 54 मिनट पर पहुंची। जबकि इसका समय 12 बजकर 55 मिनट था।

पटरी से उतरती तो बड़ा जानी माली नुकसान होता

जिस रफ्तार से गाड़ी जा रही थी और इसमें यात्रियों की भीड़ थी तो बडे हादसे का खतरा था। हादसे के वक्त अगर गाड़ी पटरी से उतर जाती तो बड़ा नुकसान हो सकता था।

ड्राइवर ने दी सूचना

ट्रेन के इंजन की जब हुक टूटी तो ड्राइवर को भी जोरदार झटका लगा। रफ्तार तेज होने कारण इंजन को जब तक रोका गया वह तीन किलोमीटर दूर जा चुका था। ड्राइवर ने ट्रेन के गार्ड से संपर्क करते हुए इसकी सूचना हेडक्वार्टर पर दी।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!