जेएनएन, लुधियाना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक तरफ जहां मेक इन इंडिया को बढ़ावा दे रहे हैं वहीं पंजाब की औद्योगिक इकाइयां सरकारी उदासीनता व गलत सरकारी नीतियों के कारण दम तोड़ रही हैं। प्रदेश में एक दशक में करीब 22 हजार औद्योगिक इकाइयों में ताले लग गए हैं।

प्रधानमंत्री मंगलवार को जब लुधियाना में उद्यमियों को नेशनल एक्सीलेंस अवार्ड से सम्मानित कर रहे होंगे तब पंजाब के उद्यमी उनसे जरूर यह उम्मीद करेंगे कि वे प्रदेश की इंडस्ट्री की बेहतरी के लिए कुछ घोषणाएं करें, उनकी सुध लें। बीते दस सालों में प्रदेश में हर सेक्टर की इंडस्ट्री पर मंदी की मार पड़ी है जिससे अस्तित्व बचाए रखना व मुकाबले में बने रहना मुश्किल हो गया है।

मोदी आज लुधियाना में उद्यमियों को नेशनल एक्सीलेंस अवार्ड से सम्मानित करेंगे

इनमें लुधियाना में होजरी व साइकिल इंडस्ट्री, जालंधर में स्पोट्र्स, हैंडटूल्स, पाइप फिटिंग व लेदर, मंडी गोबिंदगढ़, तरनतारन व बटाला में लोहा उद्योग और अमृतसर की वीविंग इंडस्ट्री शामिल हैं। पंजाब की इंडस्ट्री पड़ोसी प्रदेशों को मिले हॉलीडे पैकेज, प्रदेश की कराधान नीति के अनुकूल न होने, बिजली की कमी व दर महंगी होने, पोर्ट से दूरी, कच्चे माल की उपलब्धता की कमी, सस्ते चीनी उत्पादों की भरमार आदि समस्याओं के कारण संघर्ष कर रही है।

पढ़ें : प्रधानमंत्री मोदी का लुधियाना दौरा आज, उद्यमियों को करेंगे सम्मानित

प्रदेश के उद्यमी प्रदेश सरकार से लेकर केंद्र सरकार तक गुहार लगा चुके हैं लेकिन उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हो सका है। प्रदेश सरकार की ओर से नियुक्त औद्योगिक सलाहकार से भी उनको निराशा हाथ लगी है। हजारों इकाइयां दूसरे प्रदेशों को पलायन कर गई हैं।

प्रधानमंत्री मंगलवार को पंजाब कृषि विश्वविद्यालय में केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम (एमएसएमई) मंत्रालय की ओर से एमएसएमई स्कीम लांच करेंगे। वर्ष 2007 में इस मंत्रालय के गठन के बाद यह पहला मौका होगा, जब देश के प्रधानमंत्री एमएसएमई की स्कीमों को लांच करेंगे।

पढ़ें : अभी से हो जाएं तैयार, इस बार ठंड और धुंध करेगी अधिक परेशान

इसकी लांचिंग के लिए देशभर में छोटे उद्योगों के हब लुधियाना का चयन किया गया है। माना जा रहा है कि केंद्र सरकार ने लुधियाना का चयन पंजाब में आगामी विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर किया है। इसलिए उम्मीद की जा रही है कि प्रधानमंत्री इस अवसर पर इंडस्ट्री के लिए कोई घोषणा कर सकते हैं।

एससी/एसटी हब स्कीम भी होगी लांच

केंद्रीय एमएसएमई मंत्री कलराज मिश्र ने सोमवार को समारोह की तैयारियों का जायजा लेने के बाद कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को एससी/एसटी हब के अलावा जीरो डिफेक्ट-जीरो इफेक्ट स्कीम की लांचिंग भी करेंगे।

500 महिलाओं को देंगे चरखा

प्रधानमंत्री समारोह में 500 महिलाओं को चरखे प्रदान करेंगे। साथ ही क्वायर इंडस्ट्री की ओर से तैयार रथ का भी जायजा लेंगे। इस रथ पर क्वायर इंडस्ट्री से संबंधित उत्पाद डिस्पले होंगे। इस मौके पर कलराज मिश्र के साथ केंद्रीय राज्य मंत्री गिरीराज सिंह एवं हरि भाई चौधरी भी मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!